बीजिंग, एजेंसी। ताइवान के इर्द-गिर्द समुद्र के पानी में आग बरस रही है। बम और गोलों से दहशत पैदा की जा रही है। मेहनतकश ताइवानियों के सिर के ऊपर से सनसनाती मिसाइलें गुजर रही हैं। नजदीक ही चीन के लड़ाकू विमान कानफोड़ू आवाज के साथ तनाव बढ़ा रहे हैं। चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी सैन्य अभ्यास लाइव-फायर में दो दिन में 100 से ज्यादा लड़ाकू विमान और दस युद्धपोत भेज चुकी है। जबकि ताइवान के रक्षा मंत्रालय के अनुसार चीनी सेना के 68 लड़ाकू विमानों और 13 युद्धपोतों ने सीमा का उल्लंघन कर घुसपैठ की है। जापान ने कहा है कि उसके क्षेत्र में कुल नौ मिसाइलें गिरी हैं।

चीन की सरकारी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के अनुसार सैन्य अभ्यास में लड़ाकू विमान, बमवर्षक विमान, विध्वंसक, फ्रिगेट्स और सभी तरह के अन्य हथियारों-उपकरणों का इस्तेमाल हो रहा है। इसमें सेना के तीनों अंगों के हथियारों-उपकरणों के समन्वय का परीक्षण किया जा रहा है। इस अभ्यास में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की पूर्वी थिएटर कमांड नव विकसित उन्नत मिसाइलों का भी इस्तेमाल कर रही है। कमांड ने कहा है कि मिसाइलें निशानों पर सटीक वार कर रही हैं। यह अभ्यास ताइवान के आसपास के समुद्र में छह स्थानों पर हो रहा है। चीन ताइवान और आसपास के समुद्री क्षेत्र पर अपना अधिकार बताता है। शुक्रवार को चीनी युद्धपोत और लड़ाकू विमानों ने ताइवान स्ट्रेट के मध्य की आभासी रेखा को पार किया। चीन और ताइवान के मध्य के समुद्री क्षेत्र की इस रेखा को ही सीमा रेखा माना जाता है। चीन के लड़ाकू विमान और युद्धपोत अक्सर इस समुद्री सीमा रेखा और उसके ऊपर के आकाशीय क्षेत्र का उल्लंघन कर ताइवान के क्षेत्र में घुसपैठ करते रहते हैं।

ताइवान जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि चीन के सैन्य अभ्यास के दौरान अभी तक उसके 68 लड़ाकू विमानों और 13 युद्धपोतों ने सीमा का उल्लंघन कर घुसपैठ की है। चीन की ओर से हो रहे सीमा के लगातार उल्लंघन पर संयम बरता जा रहा है लेकिन ताइवान की सेना जवाबी कार्रवाई के लिए पूरी तरह से तैयार है। 

किशिदा ने कहा, क्षेत्रीय शांति को खतरा

ताइवान ही नहीं जापान के हातेरूमा इकोनोमिक जोन में भी चीन ने पांच मिसाइलें बीते 48 घंटों में दागी हैं। जापान ने इसे राष्ट्रीय सुरक्षा पर हमला बताते इस पर कड़ा विरोध जताया है। जापान के रक्षा मंत्रालय ने फूजियान क्षेत्र में भी चार चीनी मिसाइलें गिरने की आशंका जताई है। जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा ने कहा है कि चीन के इस व्यापक सैन्य अभ्यास का मतलब है कि ताइवान खतरे में हैं और क्षेत्रीय शांति व स्थिरता भी खतरे में है।

पर्यटक नजारे की बना रहे वीडियो फिल्म

ताइवान पहुंचे पर्यटक ताइवान स्ट्रेट के नीले पानी में चल रही सैन्य गतिविधियों को दूरबीन के जरिये देख रहे हैं। आकाश में उड़ने वाले लड़ाकू विमानों के चीन या ताइवान का होने का अंदाजा लगाकर उनके वीडियो बना रहे हैं या फोटो ले रहे हैं। इंटरनेट मीडिया पर वे ताइवान के साथ होने के संदेश भी पोस्ट कर रहे हैं।

Edited By: Dhyanendra Singh Chauhan