बीजिंग, एएफपी। चीन ने बच्चों में ऑनलाइन गेम खेलने की बढ़ती लत पर अंकुश लगाने के लिए सख्त कदम उठाए हैं। इसके लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इसके तहत 18 साल से कम उम्र के बच्चे दिन के दौरान 90 मिनट से ज्यादा ऑनलाइन गेम नहीं खेल सकेंगे। यही नहीं, रात दस बजे से सुबह आठ बजे तक गेम खेलने पर पाबंदी रहेगी।

नए दिशा-निर्देश में ऑनलाइन गेम खेलने पर खर्च होने वाली राशि पर भी कैंची चलाई गई है। अब बच्चे गेम पर हर महीने 200 युआन (करीब दो हजार रुपये) से ज्यादा खर्च नहीं कर सकेंगे। 16 से 18 साल की उम्र के किशोरों के लिए इसकी सीमा 400 युआन (करीब चार हजार रुपये) रखी गई है।

नए नियमों के तहत गेम खेलने वाले बच्चों को अपने असली नाम पर रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा। उन्हें चीनी मैसेजिंग सोशल मीडिया वीचैट पर अपने अकाउंट, फोन नंबर या आइडी नंबर जैसे विवरण देने होंगे। सरकार ने मंगलवार को जारी इन दिशा-निर्देश में गेम निर्माताओं से अपने गेम कंटेंट और नियमों में बदलाव करने को भी कहा है।

बच्चों की सेहत पर असर

चीन में दुनिया का सबसे बड़ा वीडियो गेम बाजार है, लेकिन बच्चों में पास की नजर कमजोर होने और ऑनलाइन गेम की लत को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच चीनी सरकार वीडियो गेम इंडस्ट्री पर अंकुश लगा रही है।

सोशल मीडिया में छिड़ी बहस

बच्चों के ऑनलाइन गेम खेलने पर अंकुश लगाए जाने पर चीनी सोशल मीडिया वीबो पर गुरुवार को बहस छिड़ गई। 21 करोड़ यूजर वाले इस सोशल मीडिया पर एक व्यक्ति ने लिखा, 'नए निर्देश से जाहिर होता है कि किशोर उम्र के बच्चे गेम्स नहीं खेल सकेंगे क्योंकि चीन में ज्यादातर किशोरों को स्कूल जाना पड़ता है, जो सुबह साढ़े छह बजे शुरू होकर रात दस बजे खत्म होता है।' एक अन्य यूजर ने दावा किया कि फर्जी आइडी नंबर आसानी से हासिल किए जा सकते हैं।

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप