बीजिंग, एएनआइ। चीनी कम्यूनिस्ट पार्टी (सीसीपी) की ओर से इंटरनेट मीडिया पर जारी एक पोस्ट में भारत के कोविड-19 संकट का मजाक बनाया गया है, लेकिन चीन का भारत की खराब छवि पेश करने का यह कुप्रयास उल्टा उसकी छवि पर भारी पड़ गया है।

भारत में कोविड-19 के हालात का मजाक बनाने की कोशिश

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार इंटरनेट मीडिया के जिस खाते से भारत में मौजूदा कोविड-19 के हालात का मजाक बनाने की कोशिश की गई है, वह चीन की सत्तारूढ़ पार्टी के शक्तिशाली धड़े सेंट्रल कमीशन फार पालिटिकल एंड लीगल अफेयर्स का है।

वेबो पर भारत में रात के समय जलती चिताओं का फोटो लगाया गया था

चीन के इंटरनेट प्लेटफार्म वेबो पर चीनी लांग मार्च-5बी कैरियर राकेट के विस्फोट करने की एक फोटो के साथ भारत में रात के समय जलती चिताओं का फोटो लगाया गया था। इस फोटो के नीचे कैप्शन लगाया गया था कि चीन का आग लगाना बनाम भारत का आग लगाना। इसके साथ ही इसमें हैशटैग लगाया गया था कि भारत ने एक दिन में कोविड-19 के मामले एक दिन में चार लाख से ऊपर होने की घोषणा की है। इस फोटो को फिर चीन के अन्य सरकारी खातों से साझा किया गया है।

चीनी यूजरों ने जताई भारी नाराजगी, कहा- यह पूरी तरह से मानव जीवन का अपमान है

लेकिन चीन सरकार की इस बेशर्मी पर चीनी इंटरनेट मीडिया के कई यूजर स्तब्ध रह गए। एक चीनी यूजर ने कमेंट में लिखा कि मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि यह पोस्ट चीनी सरकार के एक खाते से की गई है। आपको दूसरों की तकलीफ से अपने देश का गौरव बताने की जरूरत क्यों महसूस हुई? एक अन्य चीनी यूजर ने लिखा कि इसे (सेंसर से) मंजूरी कैसे मिली? यह पूरी तरह से मानव जीवन का अपमान है। यहां तक कि इस पोस्ट को सरकारी समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स के प्रधान संपादक ह्यू जियान ने भी बहुत ही खराब पोस्ट माना है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में भारत का मजाक चीन के किसी आधिकारिक इंटरनेट खाते के जरिये या अन्य सशक्त ताकतों के जरिये बनाना एकदम गलत है।

वेबो पर चीनी यूजरों की नाराजगी के बाद इस पोस्ट को हटा लिया गया

सीएनएन ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि इस वेबो पर चीनी नागरिकों के इस पोस्ट को धिक्कारने के बाद इसे हटा लिया गया है। और यह तब हुआ है जब चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने विगत शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संदेश देकर कोविड-19 के हालात से निपटने में मदद करने की पेशकश की थी। शी ने कहा था कि वैश्विक महामारी के खिलाफ सहयोग करने में भारत के साथ है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप