बीजिंग, प्रेट्र। चीन ने शुक्रवार को इन्कार किया कि उसने आस्ट्रेलिया से कोयला लादकर आए भारतीय मालवाहक जहाज जग आनंद को अपने जिंगतांग बंदरगाह पर रोक रखा है। जहाज को वापस लौटने की अनुमति देने में देरी के कारण उसके 23 सदस्य वहां जून से फंसे हुए हैं। आगमन के बाद जहाज के कतार में ही फंसे रहने के कारण चालक दल के सदस्यों को मदद की गुहार लगानी पड़ी। आइटीएफ-एशिया प्रशांत क्षेत्र के एक बयान के मुताबिक, नेशनल यूनियन आफ सीफेयरर्स ऑफ इंडिया, इंटरनेशनल ट्रांसपोर्ट वर्कर्स फेडरेशन (ITF) और इंटरनेशनल मेरीटाइम आर्गनाइजेशन ने नाविकों के लिए आवाज उठाई है।

जहाज और उसके फंसे हुए चालक दल के सदस्यों के बारे में पूछे जाने पर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने शुक्रवार को बताया कि जहां तक मुझे पता है यह भारतीय जहाज जून से ही जिंगतांग बंदरगाह में हैं। चीन ने उसे जाने से कभी नहीं रोका। इस स्थिति का मूल कारण यह है कि वाणिज्यिक हितों के कारण मालवाहक जहाज अपनी आगे की योजना को व्यवस्थित नहीं कर पाया है।

उन्होंने कहा कि स्थानीय चीनी अधिकारी भारतीय पक्ष से करीबी संपर्क में हैं और समय से उनके अनुरोधों का जवाब भी दिया गया है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों ने आपात चिकित्सा की जरूरत की स्थिति में सहायता की भी पेशकश की है।

इससे पहले, भारतीय दूतावास के अधिकारियों ने कहा था कि भारतीय चालक दल के सदस्यों की गुहार को हेबई प्रांत की प्रांतीय सरकार के समक्ष उठाया गया। यह बंदरगाह इसी प्रांत में है। हेबई प्रांत की सरकार ने अपने जवाब में कहा कि जहाज माल ढुलाई के लिए कतार में है और कोरोना संबंधी कड़े नियमों के कारण चालक दल को बदलने की अनुमति नहीं होगी।

ऑस्ट्रेलिया के बीच संबंध बिगड़ने की सजा भुगत रहा यह जहाज

समझा जा रहा है कि यह जहाज चीन और ऑस्ट्रेलिया के बीच संबंध बिगड़ने की सजा भुगत रहा है। कोरोना फैलने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं के कारण अपने 5जी नेटवर्क से चीनी कंपनी हुआवे को चलता कर दिया था। पिछले कुछ महीनों में ऑस्ट्रेलिया और चीन के संबंध काफी बिगड़ चुके हैं। कोरोना की शुरुआत कहां से हुई, इस संबंध में अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों द्वारा पता लगाने की मुहिम का आस्ट्रेलिया ने समर्थन किया था, जिस पर चीन ने कड़ा ऐतराज जताया था। इसके अलावा भी कई अन्य मुद्दों को लेकर ऑस्ट्रेलिया से चीन नाराज है।

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के अनुसार चीन ने अपने देश के व्यापारियों से आस्ट्रेलिया से कोयला, जौं, तांबा, चीनी, टिंबर, शराब और झींगा मछली का आयात बंद करने को कहा है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप