बीजिंग, (एजेंसी): चीन में एक हैकर ने शंघाई शहर द्वारा चलाए जा रहे COVID ऐप को ही हैक कर लिया है। इस ऐप को कोविड रोकथाम के लिए सरकार ने लांच किया था, जिसमें 48.5 मिलियन (4.85 करोड़) उपयोगकर्ताओं का व्यक्तिगत डाटा है। अब इस डाटा का बड़े स्तर पर लीक होने का खतरा बढ़ गया है, इसी के साथ यह महीने भर में चीनी डेटा लीक का दूसरा मामला है।

3,18,805 रुपये में डाटा बेचने का आफर

'XJP' नाम वाले हैकर ने बुधवार को हैकर फोरम 'ब्रीच फोरम' पर 4,000 डालर (3,18,805 रुपये) में डेटा बेचने का आफर पोस्ट किया। हैकर ने फोन नंबर, नाम और चीनी पहचान संख्या और 47 लोगों के स्वास्थ्य कोड सहित डेटा का एक नमूना भी प्रदान किया। समाचार एजेंसी रायटर्स द्वारा जांच में 47 में से ग्यारह ने पुष्टि की कि उनके नाम नमूने में बताए गए थे। हालांकि दो ने कहा कि उनकी पहचान संख्या गलत थी।

ऐसे काम करता है ऐप

  • यह ऐप सभी निवासियों और यात्रियों को उपयोग के लिए अनिवार्य किया गया था।
  • ऐप लोगों को लाल, पीले या हरे रंग की रेटिंग देने के लिए यात्रा डेटा एकत्र करता है जो वायरस होने की संभावना को दर्शाता है।
  • चीन में लोगों को सार्वजनिक स्थानों में प्रवेश करने के लिए इस ऐप के कोड दिखाना होता है। इस ऐप के डेटा को शहर की सरकार द्वारा प्रबंधित किया जाता है।

कोरोना के दौरान बनाया गया था Suishenma ऐप

एक्सजेपी ने पोस्ट में कहा कि इस डीबी (डेटाबेस) में वे सभी लोग शामिल हैं जो सुइशेंमा के अपनाए जाने के बाद से शंघाई में रहते हैं। Suishenma शंघाई के स्वास्थ्य कोड प्रणाली का चीनी नाम है, जिसे कोरोना के दौरान 25 मिलियन लोगों के शहर के लिए 2020 में स्थापित किया गया था।

Edited By: Mahen Khanna