बीजिंग, रायटर। चीन में कोरोना के कड़े प्रतिबंधों को लेकर देशभर में हुए जोरदार प्रदर्शनों के बाद रविवार को उरुमकी समेत कुछ और शहरों में छूट की घोषणा की गई। हालांकि, चीन जीरो कोविड नीति को वापस नहीं लेने जा रहा है। इस बीच रविवार को कोरोना से दो और मौत दर्ज की गई है। शिनजियांग प्रांत की राजधानी उरुमकी में सोमवार से माल, बाजार, रेस्तरां सोमवार से फिर से खुलेंगे।अधिकारियों ने एक महीने की कड़े लाकडाउन के बाद रविवार को यह घोषणा की गई।

दस लोगों की मौत के बाद देश में प्रदर्शन 

उरुमकी में एक ऊंची इमारत में आग लगने से 10 लोगों की मौत के बाद ही देशभर में उग्र प्रदर्शन शुरू हुए थे। पुलिस बीजिंग के लियांगमेकिओ क्षेत्र और शंघाई में वुलुमुकी रोड पर पुलिस दल-बल के साथ डटी हुई है। इन दोनों जगहों पर पिछले सप्ताह जोरदार प्रदर्शन हुए थे।

यातायात के समय नहीं मांगी जाएगी निगेटिव कोविड रिपोर्ट

शंघाई में सोमवार से यातायात के समय निगेटिव कोविड रिपोर्ट नहीं मांगी जाएगी। इससे पहले गुवांगशी की राजधानी नाननिंग में भी निगेटिव कोविड रिपोर्ट दिखाने को लेकर जरूरत रद कर दी गई थी। समाचार एजेंसी एपी ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के हवाले से बताया कि रविवार को कारोना से शेडोंग और सिचुआन प्रांत में एक-एक की मौत हुई है। रविवार को बताया गया कि पिछले 24 घंटों में चीन में कोरोना संक्रमण के 35,775 नए मामले सामने आए।

खतरे के बावजूद पश्चिम से वैक्सीन नहीं ले रहा चीन- अमेरिका 

अमेरिका के नेशनल इंटेलिजेंस के डायरेक्टर अवरिल हैंस ने शनिवार को कहा कि चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग कोरोना की विस्फोटक स्थित के बावजूद पश्चिमी देशों से वैक्सीन लेने को तैयार नहीं हैं। चीन में कोरोना के मामले अब तक के सबसे ज्यादा आ रहे हैं। हैंस रीगन नेशनल डिफेंस फोरम में बोल रहे थे।

यह भी पढ़ें- WHO की रिपोर्टः इंटरनेट के जरिए बच्चों का यौन शोषण करने वालों में ज्यादातर उनके परिचित, जानिए बचाव के उपाय

Fact Check: गंदे ड्रेसिंग रूम की ये तस्वीरें FIFA 2022 में कोस्टा रिका मैच के बाद जापानी ड्रेसिंग रूम की नहीं हैं

Edited By: Sonu Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट