बीजिंग, रायटर। दक्षिण चीन सागर के पास ब्रिटेन की नौसेना का एक युद्धपोत पहुंचने से चीन भड़क गया है। उसने गुरुवार को इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि ब्रिटेन उकसावे वाला बर्ताव कर रहा है।

22 हजार टन वजनी एचएमएस एल्बियन युद्धपोत पिछले महीने के आखिर में 'फ्रीडम ऑफ नेविगेशन' अभ्यास के दौरान चीन के दावे वाले पार्सेल द्वीप समूह के पास पहुंच गया था। इस पर ब्रिटिश रॉयल नेवी का एक दस्ता सवार था। यह पोत बीते सोमवार को वियतनाम के हो ची मिन शहर पहुंचा।

सूत्रों के अनुसार, दक्षिण चीन सागर में अपने दावे वाले द्वीप के पास ब्रिटिश युद्धपोत पहुंचने पर चीन ने एक फ्रिगेट और दो हेलीकॉप्टर रवाना किए थे, लेकिन इस दौरान दोनों पक्षों ने शांति बनाए रखी। पार्सेल द्वीप समूह पर चीन का कब्जा है, लेकिन वियतनाम और ताइवान भी इस पर दावा करते हैं।

चीन के विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा, ब्रिटिश युद्धपोत 31 अगस्त को बिना अनुमति के हमारे जलक्षेत्र में घुस गया था। चीनी नौसेना ने उसे इसके लिए चेतावनी दी थी। ब्रिटिश युद्धपोत ने चीन और अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन किया है।

--------------

Posted By: Bhupendra Singh