वाशिंगटन, एएनआइ। द्वितीय विश्व युद्ध (World War 2) के समय का एक पुराना बमवर्षक विमान बी-17 बुधवार को कनेक्टिकट के ब्रैडली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस विमान में 13 लोग सवार थे, जिसमें से सात लोगों की मौत हो गई। इस हादसे में सात लोग घायल हो गए। यह हादसा स्थानीय समयानुसार सुबह 10 बजे हुआ। यह विमान टेकऑफ के 10 मिनट बाद किसी तकनीकि दिक्कत के चलते ब्रैडली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर लौटा और लैंड करते वक्त रनवे से फिसल गया, जिससे यह हादसा हुआ। 

फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन ने कहा, ' इस घटना में सात लोग घायल हो गए, जिसमें से एक व्यक्ति जमीन पर था।' इस घटना का सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो में क्रैस साइट के आसापास धुएं का गुबार देखने को मिल रहा है। बी -17 इतिहास में सबसे बड़े पैमाने पर उत्पादित बमवर्षक विमानों में से एक था, द्वितीय विश्व युद्ध से पहले और उसके दौरान इसके 12,700 से अधिक इकाइयों का निर्माण किया गया था।

कोलिंग्स फाउंडेशन द्वारा संचालित

जानकारी अनुसार इस विमान में कुल 13 लोगों में से दस यात्री और तीन लोग चालक दल से थे। यह विमान कोलिंग्स फाउंडेशन द्वारा संचालित था, जो विमानन कंपनियों को खाना मुहैया कराता है। राज्य के हवाईअड्डा प्राधिकरण के निदेशक केविन डिलन ने कहा कि उड़ान भरने के दस मिनट बाद सुबह 9:45 बजे पायलटों ने कंट्रोल रूम को संदेश भेजा कि वे विमान उड़ाने में समस्या का सामना कर रहे हैं।   

ऊंचाई हासिल नहीं कर पा रहा था विमान

उन्होंने संवाददाताओं को बताया, 'पायलटों ने बताया कि वो ऊंचाई हासिल नहीं कर पा रहे हैं। लैंडिंग के दौरान उन्होंने स्पष्ट रूप से नियंत्रण खो दिया। इससे हमारी रखरखाव की सुविधा भी प्रभावित हुई।' 

1987 में दुर्घटनाग्रस्त हुआ था विमान

इससे पहले यह विमान 1987 में दुर्घटनाग्रस्त हुआ था, जब वह पेन्सिलवेनिया के बेवर फॉल्स में एक रनवे से फिसल गया। इस दौरान उड़ान में सवार 12 लोगों में से तीन घायल हो गए थे।   

बी-17 ने गिराए थे सबसे ज्यादा बम

बोइंग बी-17 विमान की पहली उड़ान साल 1935 में हुई थी। द्वितीय विश्वयुद्ध से पहले और बाद में 12,700 बी-17 विमानों का निर्माण किया गया था। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी के कब्जे वाले क्षेत्रों पर अमेरिकी विमानों ने कुल 15 लाख टन वजन के बम गिराए थे। इनमें से छह लाख 40 हजार टन बम बी-17 विमानों से गिराए गए थे।

यह भी पढ़ें: Drones Measure Whales: ड्रोन की मदद से मापा जा सकेगा विशालकाय व्हेल का वजन

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस