वॉशिंगटन, पीटीआइ। हिंसा, लूटपाट, अराजकता और कानून तोड़ना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, व्हाइट हाउस ने मिनीपोलिस में एक गोरे पुलिस अधिकारी द्वारा एक निहत्थे काले व्यक्ति की हत्या पर देशव्यापी विरोध के बीच कहा है। पुलिस हिरासत में अश्वेत व्यक्ति जार्ज फ्लॉयड की मौत के बाद लगातार कई दिनों से अमेरिका झुलस रहा है। हालात हर दिन के साथ बेकाबू हो गए। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव कायले मैकनी ने सोमवार को अपने समाचार सम्मेलन में संवाददाताओं से कहा, 'राष्ट्रपति ने स्पष्ट किया है कि हम अमेरिका की सड़कों पर जो देख रहे हैं वह अस्वीकार्य है। हिंसा, लूटपाट, अराजकता और कानून को तोड़ना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।'

उन्होंने आगे कहा कि यह कही से भी साधारण विरोध नहीं है। यह आपराधिक कृत्यों को विरोध नहीं कह सके। ये ऐसे अपराध हैं जो निर्दोष अमेरिकी नागरिकों को नुकसान पहुंचाते हैं। बता दें कि पिछले एक सप्ताह से चल रहे देशव्यापी दंगों और लूटपाट से देश में सभी गतिविधियों पर रोक लगी है। अमेरिकी राज्य मिनेसोटा के सबसे बड़े शहर मिनियापोलिस में अफ्रीकी-अमेरिकी व्यक्ति जार्ज फ्लॉयड की हिरासत में हत्या के खिलाफ लोग सड़कों पर हैं और भेदभाव के आरोप लग रहे हैं।

दशकों में अमेरिका में सबसे खराब नागरिक अशांति के रूप में यह हिंसा देखी जा रही है। हिंसक विरोध फ्लॉयड की मृत्यु के बाद के दिनों में अमेरिका भर में कम से कम 140 शहरों में फैल गया। बता दें कि मिनियापोलिस पुलिस की हिरासत में 46 साल के अश्वेत आदमी की मौत हो गई थी। एक श्वेत अधिकारी ने उसकी गिरफ्तारी के दौरान उसकी गर्दन पर घुटने टेक दिए, क्योंकि उसने निवेदन किया था कि वह सांस नहीं ले पा रहा है। यह घटना ऑनलाइन शेयर किए गए एक वीडियो में सामने आई है।

दक्षिण में न्यूयॉर्क से उत्तर में ऑस्टिन तक और दक्षिण में वाशिंगटन डीसी से लेकर पश्चिम में लॉस एंजेलिस तक बड़ी संख्या में विरोध प्रदर्शन हिंसक हो गए हैं। प्रेस सचिव ने कहा कि 24 राज्यों में 17,000 नेशनल गार्ड सैनिकों को सक्रिय किया गया है। उन्होंने कहा, 'कुल मिलाकर 350,000 नेशनल गार्ड उपलब्ध हैं और अधर्म के लिए और कदम उठाए जा रहे हैं। देश भर के गवर्नरों को नेशनल गार्ड की तैनाती करनी चाहिए, क्योंकि वह अमेरिकी समुदायों की रक्षा करने में सक्षम हैं।'

उन्होंने कहा कि जैसा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने बार-बार कहा है कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन होना चाहिए शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शनकारियों का अधिकार है, लेकिन हम मिनियापोलिस में ऐसी स्थिति की अनुमति नहीं दे सकते हैं जो आगे अराजकता में इस कदर फैल जाए।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस