मेक्सिको, एजेंसी। सुरक्षा बलों द्वारा जेल में बंद कुख्यात मादक पदार्थ तस्कर जोआक्विन 'अल चापो' गुजमैन के बेटे को गिरफ्तार करने के बाद उत्तरी मेक्सिको में भारी लड़ाई छिड़ गई। Ovidio Guzmán López को Culiacán शहर में एक नियमित गश्त के दौरान पकड़ा, जिसके बाद अल चापो के समर्थकों ने पुलिस और सेना पर हमला कर दिया। पूरे शहर में जबरदस्त गोलीबारी की गई, इसकी कई तस्वीरें भी सामने आइ, जिसमें हुआ नुकसान देखा जा सकता है। फुटेज में भारी हथियारों से लैस लोगों ने पुलिस पर गोलीबारी की, जिसमें कार, शव और सड़क पर खड़ी बैरिकेडिंग जलती हुई दिखाई दी। जहां अधिकारियों ने कहा कि आगे हिंसा ज्यादा ना बढ़े इसलिए पुलिस ने गुज़मैन को छोड़ दिया और वापस चली गई।

गुज़मैन परिवार के एक वकील ने एसोसिएटेड प्रेस (एपी) को बताया कि Ovidio जीवित और फ्री है। वहीं, मेक्सिको के राष्ट्रपति Andrés Manuel López Obrador ने कहा कि वह इस घटना पर चर्चा करने के लिए अपनी सुरक्षा कैबिनेट की बैठक आयोजित करेंगे।

बता दें कि मेक्सिको के सबसे कुख्यात ड्रग्स माफिया अल चापो को अमेरिका की एक अदालत द्वारा आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा चुकी है। अल चापो को दुनिया के सबसे शक्तिशाली गिरोहों में से एक गिरोह के सरगना के रूप में कई अपराधों को अंजाम देने का दोषी पाया गया था। मेक्सिको के कुख्यात ड्रग तस्कर जोआकिन अल चापो गुजमान को अमेरिका की सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली जेलों में शुमार मैनहटन जेल में रखा गया है। इसी जेल में ओसामा बिन लादेन के संगठन अलकायदा के आतंकियों को रखा जाता था।

गुजमान मेक्सिको की जेल से दो बार फरार हो चुका है। उसे अमेरिका ने दुनिया का सबसे बड़ा ड्रग तस्कर घोषित किया था। मेक्सिको ने डोनाल्ड ट्रंप के शपथ लेने से एक दिन पहले गुजमान को अमेरिका के हवाले किया था। बता दें कि 1957 में अल चापो का जन्म हुआ था। घर के आस-पास होने वाली अफीम और गांजे की खेती के वजह से अल चापो ने ड्रग्स सप्लाई का तरीका सीखा और देखते ही देखते इस धंधे का सबसे बड़ा माफिया बन गया।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप