वाशिंगटन, रायटर। संयुक्त राज्य अमेरिका ने कनाडा और मैक्सिको के साथ लगी अपनी सिमाओं को 18 महीनों बाद एक बार फिर खोल दिया है। इसके तहत कोरोना वैक्सीन की दो डोज लगा चुके लोगों को आने-जाने की इजाजत मिलेगी। नवंबर महीने से बाइडन प्रशासन का यह फैसला लागू होगा। मार्च 2020 से कोरोना महामारी के बाद से अमेरिका ने लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया था।

यूएस होमलैंड सिक्योरिटी सेक्रेटरी एलेजांद्रो मेयरकास ने एक बयान में कहा कि प्रशासन अगले महीने मेक्सिको और कनाडा के यात्रियों को आने की अनुमति देना शुरू कर देगा। इस दौरान सिर्फ कोरोना वैक्सीन की पूरी डोज लेने वालों को ही इजाजत मिलेगी। इसके तहत लोग गैर-जरूरी उद्देश्यों के लिए संयुक्त राज्य में प्रवेश कर सकेंगे, जिसमें पर्यटन, दोस्तों और परिवार के लोगों से मिलना भी शामिल है।

अमेरिकी सीमावर्ती राज्यों के सांसदों ने अभूतपूर्व प्रतिबंधों को उठाने के कदम की प्रशंसा की है। इसकी वजह से स्थानीय समुदायों की अर्थव्यवस्थाओं को नुकसान पहुंचा और 19 महीनों के लिए दोस्तों और परिवारों से मिलने से रोक दिया था। डेमोक्रेटिक नेता चक शूमर ने एक बयान में कहा, 'महामारी की शुरुआत के बाद से सीमा पार के हमारे परिजनों ने दर्द और आर्थिक कठिनाई को महसूस किया है। वह दर्द अब समाप्त होने वाला है।'

बिना टीकाकरण वाले यात्रियों को अभी भी कनाडा या मेक्सिको की सीमाओं पर संयुक्त राज्य में प्रवेश करने से रोक दिया जाएगा। राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन के अधिकारियों ने इस बात पर जोर दिया कि व्हाइट हाउस पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन द्वारा लगाए गए 'टाइटल 42' आदेश को नहीं हटाएगा। टाइटल 42 अनिवार्य रूप से मेक्सिको से प्रवेश करने के इच्छुक प्रवासियों के लिए शरण देने से रोकता है।

अधिकारियों ने कहा कि नवंबर की शुरुआत में भूमि और हवाई यात्रा दोनों पर प्रतिबंध हटा की तारीख का ऐलान जल्द ही किया जाएगा। होमलैंड सिक्योरिटी ने कहा कि प्रशासन संयुक्त राज्य अमेरिका की यात्रा करने वाले सभी विदेशी नागरिकों के लिए लगातार कड़े प्रोटोकाल बना रहा था चाहे वह हवाई, जमीन से हो। कनाडा ने 9 अगस्त को गैर-आवश्यक यात्रा के लिए पूरी तरह से टीका लगाए गए अमेरिकी नागरिकों को अनुमति देना शुरू किया था।

अमेरिकी सांसद मार्च 2020 से उत्तरी अमेरिकी सीमा पर कनाडाई लोगों की गैर-जरूरी यात्रा पर रोक लगाने वाले प्रतिबंधों को हटाने के लिए व्हाइट हाउस पर दबाव बना रहे थे। इसके अलावा मेक्सिको ने भी प्रतिबंधों में ढील देने के लिए बाइडन प्रशासन पर दबाव डाला था। व्हाइट हाउस ने 20 सितंबर को घोषणा करते हुए कहा था कि वह नवंबर की शुरुआत में चीन, भारत, ब्राजील और अधिकांश यूरोप सहित 33 देशों से हवाई यात्रियों पर लगे यात्रा प्रतिबंध को हटा देगा।

Edited By: Manish Pandey