वाशिंगटन, एएफपी। अमेरिकी सीनेटर मिच मैककोनेल ने शुक्रवार को सीरिया से सैनिकों को वापस लेने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले की आलोचना की है। उन्होंने इसे रणनीतिक चूक बताया। साथ ही उन्होंने कहा है कि इससे अमेरिका के दुश्मनों फायदा और उसके सहयोगियों को नुकसान होगा।मैककोनेल को कट्टर समर्थक माना जाता है। ऐसा में उनका यह बयान काफी ट्रंप के लिए बड़ा झटका है। 

कांग्रेस में शीर्ष रिपब्लिकन नेता  मैककोनेल, वाशिंगटन पोस्ट में प्रकाशित एक ऑप-एड में लिखा, 'यह अमेरिका और उसके लोगों की सुरक्षा प्रभावित होगी। इससे हमारे दुश्मनों को मजबूती मिलेगी और महत्वपूर्ण गठबंधन कमजोर होंगे।

राष्ट्रपति के कट्टर समर्थक

उनका यह बयान ट्रंप द्वारा सीरिया से सैन्य वापसी के अपने फैसले को सही बताने के बाद आया है। ट्रंप ने इस फैसले को रणनीतिक रूप से शानदार बताया था। मैककोनेल को आमतौर पर राष्ट्रपति का कट्टर समर्थक माना जाता है। उन्होंने  इससे पहले भी पूर्वोत्तर सीरिया से ट्रंप के सैनिकों को वापस लेने के फैसले की निंदा की थी। इस फैसले के बाद तुर्की ने इस्लामिक स्टेट (IS) के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका के साथ गठबंधन करने वाले कुर्दों के खिलाफ ने हमले को तेज कर दिया था।

रणनीतिक चूक

माइक पेंस द्वारा तुर्की के साथ अस्थायी संघर्ष विराम के बावजूद लड़ाई जारी रही है।  मैककोनेल ने अपनी राय में लिखा, 'अमेरिकी सेना की वापसी और तुर्की और कुर्दों के बीच तनाव का संयोजन हमारे देश के लिए एक रणनीतिक चूक बनने जा रहा है। 

आतंकवादियों के खिलाफ अभियान को चोट

उन्होंने कहा, 'भले ही गुरुवार को पांच दिवसीय युद्धविराम की घोषणा हो गई हो, पिछले सप्ताह की घटनाओं से इस्लामिक स्टेट और अन्य आतंकवादियों के खिलाफ संयुक्त राज्य अमेरिका के अभियान को चोट पहुंची है।'

ओबामा की विदेश नीति से तुलना

मैककोनेल ने ट्रंप का नाम नहीं लिया, हालांकि, उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की विदेश नीति की सीरिया वापसी से तुलना की। उन्होंने कहा, 'हमने पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वार कदम पीछे खिंचने के बाद इराक में इस्लामिक स्टेट को फलते-फूलते देखा। अब हमें कुछ ऐसा ही सीरिया और अफगानिस्तान में भी देखने को मिलेगा। 

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस