वाशिंगटन, एजेंसी। हांगकांग में विपक्षी सांसदों की गिरफ्तारी को लेकर अमेरिका ने सख्‍त आपत्ति जताई है। अमेरिकी विदेश विभाग की ओर से कहा गया है कि इस गिरफ्तारी से यह संकेत मिलते हैं क‍ि चीन हांगकांग में लोकतंत्र के खात्‍मे के लिए एक सोची समझी रणनीति के तहत प्रयास कर रहा है। अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने कहा है गिरफ्तार किए गए लोगों में 13 पूर्व विधान परिषद के सदस्‍य, एक अमेरिकी वकील और एक पूर्व कानून के शामिल हैं। गौरतलब है कि हांगकांग में चीन के राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत 6 जनवारी को 50 से ज्‍यादा सांसदों और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया था। यह गिरफ्तारी चीन के राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून के तोड़ने के जुर्म पर गिरफ्तार किया गया था।

हांगकांग में बीते दिनों राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को लागू कर 50 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इसमें मानवाधिकार मामलों के एक अमेरिकी वकील जॉन क्लेंसी को बाद में अदालत ने जमानत दे दी थी। वहीं अब संयुक्त राज्य अमेरिका ने हांगकांग में लगाए गए राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को लागू करने में उनकी भूमिका के लिए छह चीनी और हांगकांग के अधिकारियों को नामित किया है। विदेश विभाग की ओर से जारी किए गए एक बयान के अनुसार हांगकांग के अधिकारियों ने लोकतंत्र समर्थक राजनेताओं और कार्यकर्ताओं पर  कार्रवाई करते हुए 50 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार के बाद यह कहा गया कि ये लोग हांगकांग की विधान परिषद के लिए निष्पक्ष और प्राथमिक चुनाव खोलने की कोशिश कर रहे थे।

इस बीच हांगकांग सरकार ने अमेरिकी कांग्रेस की रिपोर्ट राजनीति से प्ररित कहा है। शुक्रवार की देर रात हांगकांग ने अपने बयान में कहा है कि राष्‍ट्रीय सुरक्षा कानून अंतरराष्‍ट्रीय कानूनों के अनुरूप है। हांगकांग ने कहा अमेरिकी कांग्रेस की रिपोर्ट सच्‍चाई को प्रतिबिंब‍ित नहीं करती है। बता दें कि कांग्रेस कार्यकारी आयोग की वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि हांगकांग में 'एक देश, दो प्रणाली' की रूपरेखा को ध्‍वस्‍त कर दिया गया है। यह शहर को लंबों समय से मानवाधिकारों व कानून और समान नियमों को गंभीर रूप से कमजोर कर रहा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021