वाशिंगटन, एएनआइ। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए कोरोना वायरस परेशानी खड़ी कर सकता है। उनके दोबारा राष्ट्रपति बनने पर यह खतरनाक वायरस पानी फेर सकता है। अमेरिकियों ने एक हालिया सर्वे में कोरोना महामारी से निपटने में ट्रंप के तौर-तरीकों को लेकर नाखुशी जताई और उनकी निगेटिव में रेटिंग की है। जबकि आगामी नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी के संभावित उम्मीदवार जो बिडेन पसंद बनकर उभर रहे हैं।

पंजीकृत मतदाताओं के बीच ट्रंप के मुकाबले बिडेन को बढ़त

वाशिंगटन पोस्ट-एबीसी की ओर से किए गए सर्वे के अनुसार, हालांकि ट्रंप को लेकर समर्थकों का उत्साह बढ़ा है। उन्होंने चुनाव में उनके पक्ष में मतदान करने की बात कही है। लेकिन पूर्व की तुलना में ऐसे समर्थकों की संख्या में कमी देखी जा रही है। पंजीकृत मतदाताओं के बीच ट्रंप के मुकाबले बिडेन को बढ़त मिलता दिख रहा है। पूर्व उपराष्ट्रपति बिडेन के पक्ष में 53 फीसद तो ट्रंप के साथ महज 43 वोटर पाए गए। यह सर्वे फोन के जरिये एक हजार वयस्कों के बीच किया गया था।

वाशिंगटन पोस्ट-एबीसी की ओर से दो माह पहले कराए गए सर्वे में ट्रंप की रेटिंग सर्वोच्च स्तर पर दर्ज की गई थी। लेकिन नए सर्वे में कोरोना महामारी से निपटने के तौर-तरीकों के चलते ट्रंप की रेटिंग निगेटिव में चली गई है। आर्थिक मोर्चे पर अमेरिकियों को अब भी उन पर भरोसा है। इस मसले पर करीब 52 फीसद लोग ट्रंप के साथ दिखे।

राष्ट्रपति ने की जुकरबर्ग से बातचीत

समाचार एजेंसी आइएएनएस के अनुसार, ट्विटर के साथ बढ़ी तनातनी के बीच राष्ट्रपति ट्रंप ने फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग से फोन पर बातचीत की। यह बताया जा रहा है कि दोनों में मौजूदा हालात से निपटने पर चर्चा हुई। ट्विटर ने हाल में ट्रंप के कुछ ट्वीट पर फैक्ट चेक की वार्निग लगा दी थी। इसके बाद ट्रंप ने सोशल मीडिया पर अंकुश लगाने के लिए एक कार्यकारी आदेश जारी कर दिया था। 

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस