वाशिंगटन, पीटीआइ। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने भारत को अमेरिका का मजबूत साझीदार बताया है। कहा है कि जी 20 देशों की अध्यक्षता के दौर में वह अपने मित्र प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पूरा समर्थन करेंगे। बता दें कि वर्ष 2023 के लिए भारत को दुनिया के 20 के सबसे ज्यादा संपन्न और औद्योगिक देशों के संगठन जी 20 की अध्यक्षता मिली है। गुरुवार को भारत औपचारिक रूप से जी 20 का अध्यक्ष देश बन गया।

इस मौके पर राष्ट्रपति बाइडन ने ट्वीट कर कहा, वह भारत के साथ बेहतर होते संबंधों में भी विकास का क्रम देख रहे हैं। दोनों देश मिलकर वैश्विक चुनौतियों वाले क्षेत्र-पर्यावरण, ऊर्जा और खाद्य समस्या पर कार्यों को आगे बढ़ाएंगे। गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि जी 20 की अध्यक्षता मिलने के अवसर को वह नई संभावनाओं के द्वार खुलने के तौर पर देख रहे हैं। भारत एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य की अवधारणा लेकर सबके साथ मिलकर कार्य करने का इच्छुक है।

मोदी ने भविष्य की चुनौतियों का उल्लेख करते हुए कहा कि आतंक, पर्यावरण में बदलाव और महामारी मौजूदा समय की सबसे बड़ी चुनौतियां हैं, इनसे हमें साथ मिलकर लड़ना होगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, जी 20 की प्राथमिकताएं सहयोगी देशों के साथ मिलकर तय होंगी। लेकिन इसमें दक्षिण के अपने साथियों के हितों का भी ध्यान रखा जाएगा जिनकी आवाज अक्सर अनसुनी रह जाती है। जी 20 को लेकर भारत का एजेंडा समावेशी, महात्वाकांक्षी और कार्य उन्मुखी है जिससे पूरी दुनिया को लाभ हो।

भारतीयों को अमेरिकी वीजा मिलने में आ रही कठिनाइयों को दूर करने के लिए अमेरिकी प्रशासन अथक प्रयास कर रहा है। इस प्रयास में अमेरिकी वीजा मिलने में लग रहे समय को कम करने की कोशिश हो रही है। यह बात भारत के लिए नियुक्त अमेरिकी राजदूत एलिजाबेथ जोन्स ने कही है। उन्होंने इस मामले में वर्तमान स्थिति को खराब करार दिया। विदित हो कि इस समय भारतीयों को अमेरिकी वीजा हासिल करने के लिए काफी समय इंतजार करना पड़ रहा है।

खासतौर पर बी वन (कारोबार) और बी टू (पर्यटन) वीजा मिलने में लग रहा समय भारतीयों को परेशान कर रहा है। जोन्स ने कहा, भारतीयों को वीजा मिलने में कम समय लगे, यह अमेरिकी प्रशासन के लिए प्राथमिकता का मुद्दा है। भारतीयों को नौकरी, प्रशिक्षण इत्यादि के लिए जल्द वीजा मिले, यह अमेरिका की कोशिश है।

ये भी पढ़ें: Fact Check: गुजरात में सिर्फ मुस्लिमों को रियायत देने के दावे के वायरल हो रहा AAP का घोषणापत्र फेक और एडिटेड

ये भी पढ़ें: चीन में ओमिक्रॉन के वेरिएंट BA.5, BA.7 और XBB से बढ़े केस-मौतें, भारत के 98% लोग हर्ड इम्युनिटी से बचे

Edited By: Devshanker Chovdhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट