वाशिंगटन, पीटीआइ। अमेरिका ने पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और तालिबान से जुड़े तीन पाक नागरिकों को वैश्विक आतंकी घोषित किया है। साथ ही पाकिस्तान से आतंकियों और आतंकी संगठनों को पनाह देना बंद करने को कहा। 

अमेरिकी वित्त मंत्रालय ने रहमान जेब फकीर मुहम्मद, हिज्ब उल्ला अस्तम खान और दिलावर खान नादिर खान को गुरुवार को वैश्विक आतंकी घोषित किया। इस कार्रवाई के बाद अमेरिका में इन तीनों की सभी संपत्ति और इनसे जुड़ी संपत्ति जब्त हो जाएगी। अमेरिकी नागरिकों को इनके साथ किसी तरह के लेनदेन की मनाही होगी।

सहायक वित्त मंत्री (आतंकवाद और वित्तीय खुफिया) सिगल मैंडेलकर ने कहा कि दक्षिण एशिया में आतंकी नेटवर्क को मिलने वाले समर्थन को ध्वस्त करने के क्रम में ऐसा किया गया। उन्होंने कहा कि मंत्रालय दक्षिण एशिया में आतंकी संगठनों को मदद देने वाले कट्टरपंथियों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखेगा। हम अलकायदा, लश्कर, तालिबान जैसे आतंकी संगठनों को लॉजिस्टिक और तकनीकी सहायता एवं विस्फोटक उपलब्ध कराने वालों को निशाना बना रहे हैं। यह ट्रंप प्रशासन द्वारा आतंकियों को फंड इकट्ठा करने से रोकने के व्यापक प्रयास का हिस्सा है।

मैंडेलकर ने कहा कि क्षेत्र में पाकिस्तान सरकार और अन्य सरकारों को आतंकियों एवं आतंकी संगठनों को पनाह बंद करने के लिए हमारे साथ मिलकर काम करने को कहा गया है।

रहमान जेब को लश्कर को वित्तीय, तकनीकी और अन्य मदद देने पर वैश्विक आतंकी घोषित किया गया। वह कई वर्षों तक लश्कर का ऑपरेटिव रहा। उसका काम खाड़ी में लश्कर के लिए धन इकट्ठा करना और नेटवर्क संचालित करना था। 2014 के मध्य में वह अफगानिस्तान में सक्रिय लश्कर आतंकियों के संपर्क में था। आतंकी शेख अमीनुल्ला को पाकिस्तान से खाड़ी भेजने में उसने मदद की। हिज्ब उल्ला और दिलावर खान को अमीनुल्ला के लिए काम करने पर वैश्विक आतंकी घोषित किया गया।

 

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप