वाशिंगटन [प्रेट्र]। ईरान पर अपना शिकंजा कसते हुए अमेरिका ने करोड़ों डॉलर के आर्थिक नेटवर्क बोनयाद तावोन बसीज पर प्रतिबंध लगा दिया है। यह एक को-ऑपरेटिव फाउंडेशन है और कम-से-कम 20 वित्तीय संस्थान इससे जुड़े हैं। यह ईरानी अ‌र्द्धसैनिक बल की आर्थिक मदद करता है। अमेरिका ने अ‌र्द्धसैनिक बल पर बच्चों को सैनिक बनाने का आरोप लगाते हुए आर्थिक नेटवर्क पर प्रतिबंध लगा दिया है।

अमेरिका द्वारा ईरान के खिलाफ तेल सहित कुछ कठोरतम प्रतिबंध फिर से लागू किए जाने के दो सप्ताह पहले ट्रंप प्रशासन ने यह एलान किया है। ईरान के खिलाफ नए अमेरिकी प्रतिबंध चार नवंबर से लागू होने हैं।

अमेरिकी वित्त विभाग ने आर्थिक नेटवर्क पर प्रतिबंध का एलान करते हुए कहा कि ईरानी अर्धसैनिक बल बच्चों को सैनिक के तौर पर भर्ती करता है। फिर उन्हें प्रशिक्षण देकर अशांत इलाकों में लड़ने के लिए भेजा जाता है। अमेरिका के अनुसार, बोनयाद तावोन बसीज मुखौटा कंपनियों का इस्तेमाल करने सहित कई तरह की गतिविधियों में शामिल है।

ईरान के ऑटोमोटिव, खनन, धातु और बैंकिंग सहित कई क्षेत्रों में इसका करोड़ों डॉलर का कारोबार है। अरब देशों के अलावा यूरोप तक में यह कारोबार करता है। अमेरिका के मुताबिक, बोनयाद तावोन बसीज इस बात का उदाहरण है कि किस तरह ईरानी सेना ने कई उद्योगों में अपनी आर्थिक गतिविधियों का विस्तार किया है।

ईरान ने कहा, यह अंधविरोध है
तेहरान [एएफपी]। ईरान ने आर्थिक नेटवर्क के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध को अंधविरोध करार दिया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम गसेमी ने बुधवार को कहा कि नया प्रतिबंध अंरराष्ट्रीय बिरादरी और न्यायतंत्र का खुला उल्लंघन है। अमेरिका द्वारा अंतरराष्ट्रीय न्यायतंत्र का सम्मान नहीं करने से न सिर्फ ईरानी हितों, बल्कि वैश्विक स्थिरता और सुरक्षा पर भी खतरा उत्पन्न हो गया है।

Posted By: Vikas Jangra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस