वाशिंगटन, प्रेट्र। दक्षिण अफ्रीका के हाई प्रोफाइल गुप्ता परिवार पर अमेरिका ने प्रतिबंध लगाने का एलान किया है। भारतीय मूल के गुप्ता परिवार पर दक्षिण अफ्रीका में अपने राजनीतिक संबंधों का इस्तेमाल करते हुए भ्रष्टाचार नेटवर्क खड़ा कर देने का आरोप है। आरोप है कि गुप्ता परिवार रिश्वतखोरी, सरकारी ठेके हड़पने और सरकारी संपत्ति के दुरुपयोग जैसे मामलों में लिप्त रहा है।

अमेरिका के वित्त मंत्रालय ने अजय गुप्ता, अतुल गुप्ता, राजेश गुप्ता और उनके सहयोगी सलीम एसा का नाम प्रतिबंधित सूची में डाला है। दक्षिण अफ्रीका में भ्रष्टाचार के कई आरोपों के बाद गुप्ता परिवार दुबई में बस गया है। अमेरिकी मंत्रालय ने कहा कि अजय इस परिवार का मुखिया है, जिसने भ्रष्ट कारोबारी रणनीति बनाई और वित्तीय मामलों को अपने नियंत्रण में रखा। अतुल को गुप्ता परिवार के ऐसे सदस्य के रूप में जाना जाता है, जिसके संबंध भ्रष्ट सरकारी अधिकारियों से रहे हैं।

वहीं राजेश ने दक्षिण अफ्रीका के बड़े राजनेताओं के बेटों से संबंध मजबूत किए और दक्षिण अफ्रीका के ऐसे प्रांत में कारोबार बढ़ाने का प्रयास किया, जहां खूब भ्रष्टाचार था। सलीम एसा इस परिवार का कारोबारी सहयोगी था। वह भ्रष्टाचार के इस नेटवर्क को चलाने के लिए पैसा और अन्य जरूरी सामान मुहैया कराता था। अमेरिकी वित्त मंत्रालय ने कहा कि प्रतिबंधों की घोषणा का यह कदम दर्शाता है कि अमेरिका सरकार दक्षिण अफ्रीका में कानून व जवाबदेही के समर्थन में प्रतिबद्ध है।

गुप्ता परिवार मूलरूप से उत्तर प्रदेश के सहारनपुर का रहने वाला है। यह परिवार 1990 के आसपास दक्षिण अफ्रीका आकर बस गया था। कथित तौर पर एक राजनीतिक दल को चंदा देने और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा से करीबी संबंधों के चलते इनका कारोबार तेजी से बढ़ा। गुप्ता परिवार पर अफ्रीका में कई भ्रष्ट गतिविधियों में लिप्त रहने का आरोप है।

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप