वाशिंग्टन, एजेंसी। अमेरिकी अटॉर्नी जनरल विलियम बार (William Barr) ने यौन अपराधी और अमेरिकी फाइनेंसर जेफ्री एपस्टीन (Jeffrey Epstein) की मौत को लेकर गंभीर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि एपस्टीन ने जिस जेल में आत्महत्या की वहां काफी लापरवाही बरती गई।

बार ने कहा कि मामले की शुरुआती जांच से पता चला है कि घटना के लिए जेल आंशिक रूप से जिम्मेदार है। उन्होंने कहा 'हमें जेल में गंभीर अनियमितताएं मिली हैं। हम मामले की तह तक जाएंगे।' उन्होंने यह भी कहा कि न्याय विभाग कथित यौन अपराधों में एपस्टीन के संभावित सहयोगियों की जांच जारी रखेगा।

गौरतलब है कि शनिवार के दिन कई नेताओं और हस्तियों से नजदिकी संबंध रखने वाले एपस्टीन को जेल में मृत पाया गया। कहा जा रहा है कि उसने आत्महत्या कर ली। इससे पहले भी उसने एक बार आत्महत्या की कोशिश की थी।

इसके बाद उस पर कड़ी नजर रखी जा रही थी, तो ऐसे में उसने आत्महत्या कैसे कर ली। कई अमेरिकी सांसदों ने इसको लेकर जवाबदेही की मांग करते हुये आशंका जताया कि कहीं उसकी मौत के पीछे कोई आपराधिक कृत्य तो नहीं छुपा है। सरकार और एफबीआइ ने मामले की जांच तत्काल शुरू कर दी है।

एपस्टीन को विशेष निगरानी में रखा गया था। ऐसे में उसके सेल में एक साथी होना चाहिए था और जेल गार्ड को हर 30 मिनट में सेल की जांच करनी चाहिए थी। लेकिन रिकॉर्ड से पता चला है कि जब एपस्टीन ने आत्महत्या की तब सेल में उसका साथी मौजूद नहीं था और जेल गार्ड निर्धारित जांच करने में विफल रहे थे।

एपस्टीन पर 2000 के शुरुआती दशक में दर्जनों कम नबालिग लड़कियों के साथ यौन शोषण और दुर्व्यवहार का आरोप लगाया गया था। इसके बाद उसे जमानत देने से मना कर दिया गया था और दोषी पाए जाने पर 45 साल तक की जेल का सामना करना पड़ता।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk