वाशिंगटन, एएनआइ। अमेरिकी नौसेना के कमांडर एडमिरल सैमुअल पापारो ने कहा कि ताइवान की नाकेबंदी के चीनी मंसूबों को अमेरिका नाकाम कर सकता है। उन्होंने कहा कि अगर चीन ताइवान की समुद्री नाकेबंदी करता है तो अमेरिका और उसके सहयोगी एक साथ मिलकर इसको तोड़ने में सक्षम होंगे। जापानी मीडिया निक्केई एशिया ने यह जानकारी दी है। पापारो से पूछा गया कि क्या सहयोगी दलों के पास ताइवान की नाकेबंदी को तोड़ने की क्षमता है, इसपर उन्होंने कहा कि अमेरिका अपने सहयोगियों के साथ मिलकर चीनी मंसूबों को नाकाम कर सकता है।

परमाणु पनडुब्बियों का दिया हवाला

अमेरिकी रक्षा मंत्री लायड आस्टिन के साथ पिछले सप्ताह निक्केई और अन्य पत्रकारों ने हवाई यात्रा की थी। उन्होंने पापारो से कहा कि चीन के पास बड़ी मात्रा में जहाजों की संख्या और समुद्र में नाकाबंदी को अंजाम देने की क्षमता है, जिसपर उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि वाशिंगटन अपने दम पर भी ऐसा कर सकता है। उन्होंने इसके लिए परमाणु पनडुब्बियों और पानी के नीचे की अन्य ताकतों का हवाला दिया।

नाकेबंदी करने के लिए कर सकता है ड्रिल

अमेरिकी अधिकारी ने इस बात पर चिंता जताई की बीजिंग ताइवान को समुद्री पहुंच और नाकेबंदी करने के लिए अन्य साधनों का उपयोग कर सकता है। उन्होंने कहा कि अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी के ताइपे यात्रा के समय चीन जिस प्रकार का ड्रिल किया था इसी प्रकार के अन्य ड्रिल को भी अंजाम दे सकता है।

बड़े पैमाने पर कर चुका है सैन्य अभ्यास

मालूम हो कि चीन ने अगस्त में बड़े पैमाने पर सैन्य अभ्यास किया था। चीन ने यह अभ्यास ताइवान के ताइपे और काऊशुंग बंदरगाह के पास इस अभ्यास अंजाम दिया था। चीनी सेना ने इस अभ्यास के दौरान 11 बैलिस्टिक मिसाइलें दागीं। अधिकारी ने बताया कि इस अभ्यास के कारण नागरिक जहाजों और विमानों को मार्ग बदलने पड़े और चीनी सेनाओं के अभ्यास से सामान्य गतिविधियां भी प्रभावित हुई।

यह भी पढ़ें- ताइवान के रक्षा मंत्री का आरोप, चीन ने मध्य रेखा पार कर तोड़ा समझौता

यह भी पढ़ें-  क्या चीन के प्रति नरम पड़ा बाइडन प्रशासन? अमेरिकी विदेश मंत्री के इस संदेश के क्‍या हैं मायने

Edited By: Sonu Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट