वाशिंगटन, रायटर। चीन के जबरदस्त विरोध के बावजूद अमेरिकी नौसेना के दो युद्धपोत रविवार को ताइवान स्ट्रेट (जलडमरूमध्य) से गुजरे। अमेरिकी नौसेना के सातवें बेड़े के प्रवक्ता कमांडर क्ले डौस ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, 'विलियम पी लॉरेंस और स्टेथेम नामक युद्धपोत ताइवान स्ट्रेट में भेजे गए थे। अमेरिकी पोतों का इस जलडमरूमध्य से होकर गुजरना हमारी इस प्रतिबद्धता को दर्शाता है कि हिंद-प्रशांत क्षेत्र में आवाजाही को कोई नहीं रोक सकता।'

चीन और ताइवान को अलग करने वाले 180 किलोमीटर चौड़े इस जलडमरूमध्य पर चीन अपने एकाधिकार का दावा करता आया है। इस जलडमरूमध्य के साथ ही वह दक्षिण चीन सागर क्षेत्र में किसी दूसरे देश की दखलअंदाजी का सख्त विरोध करता है।

अमेरिका के इस कदम के बाद ताइवान को लेकर चीन और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। देश की संप्रभुता में हस्तक्षेप को लेकर ताइवान, चीन का विरोध करता है, जबकि चीन उसे अपना हिस्सा करार देते हुए सैन्य कार्रवाई की धमकी देता है। चीन के एतराज के बावजूद पिछले कुछ वर्षो में अमेरिका ने ताइवान को कई हथियार मुहैया कराए हैं।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस