टोक्यो, रायटर। जापान के समुद्री तट पर गुरुवार की सुबह दो अमेरिकी सैन्य विमानों में टक्कर हो गई। हवा से हवा में ईधन भरने की एक नियमित प्रक्रिया के दौरान यह हादसा हुआ। दोनों विमानों ने जापान के इवाकुनी स्थित मरीन कॉ‌र्प्स एयर स्टेशन से उड़ान भरी थी। हादसे में एक नौसैनिक की मौत हो गई जबकि पांच लापता हैं। बचाव दल लापता नौसैनिकों की तलाश में जुटा है।

जापान के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि टक्कर एफ/ए-18 और केसी-130 हरक्यूलिस विमानों के बीच हुई। दोनों विमानों में कुल सात नौसैनिक सवार थे। बचाए गए दो नौसैनिकों में से एक की हालत बेहतर है और दूसरे की मौत हो गई है। अन्य पांच की तलाश के लिए बचाव अभियान जारी है।

जापान के रक्षामंत्री ताकेशी इवाया ने कहा, 'फिलहाल हमारा ध्यान तलाश और बचाव अभियान पर है। घटना की पूरी जानकारी मिलने के बाद ही जापान इस पर कोई टिप्पणी करेगा।' अमेरिकी राजदूत विलियम हेगर्टी ने बचाव कार्यो में तत्परता के लिए जापानी सेना की प्रशंसा की और बताया कि हादसा हवा से हवा में ईधन भरने की एक नियमित प्रक्रिया के दौरान हुआ।

हाल के कुछ वर्षो में अमेरिका की सैन्य हवाई दुर्घटनाएं तेजी से बढ़ी हैं। द मिलिट्री टाइम्स के मुताबिक 2013 से 2017 के बीच हवाई दुर्घटनाओं में 40 प्रतिशत की वृद्धि हो गई। इन हादसों में 133 सैन्यकर्मियों की जान गई है। कई अमेरिकी सांसदों का कहना है कि सैन्य अभियानों की अधिकता व आधुनिकीकरण पर ध्यान नहीं दिए जाने के कारण हादसे हो रहे हैं। जापान में भी अमेरिकी सैन्य हादसे चिंता का कारण बने हुए हैं, विशेष रूप से दक्षिणी प्रांत ओकीनावा के लोगों में। यहां अमेरिकी सेना की बड़े पैमाने पर उपस्थिति है।

 

Posted By: Arti Yadav