न्यूयार्क, आइएएनएस। ट्विटर के एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि इसका एल्गोरिदम दक्षिणपंथी राजनीतिक विचारधारा वाली सामग्री को ज्यादा प्राथमिकता देता है। अमेरिका, जर्मनी, कनाडा, फ्रांस, जापान, स्पेन और ब्रिटेन पर ट्विटर ने एल्गोरिदम के काम करने के तरीके पर अध्ययन किया।

इस दौरान सोशल मीडिया की दिग्गज ने इन देशों की राजनीतिक पार्टियों द्वारा साझा किए गए ट्वीट्स की जांच की। इसमें यय पता चला कि वामपंथी विचारधारा की पार्टियों की तुलना में दक्षिणपंथी पार्टियों के ट्वीट को अधिक प्राथमिकता दी जा रही है। स्वतंत्र संगठनों द्वारा परिभाषित दक्षिणपंथी समाचार आउटलेट को वामपंथी समाचार आउटलेट की तुलना में अधिक प्राथमिकता मिली।

यह शोध 1 अप्रैल से 15 अगस्त 2020 तक के कनाडा में हाउस आफ कामन्स के सदस्यों, फ्रेंच नेशनल असेंबली, जर्मन बुंडेस्टाग, जापान में हाउस आफ रिप्रेजेंटेटिव्स, कांग्रेस आफ डेप्युटीज आफ स्पेन, यूके में हाउस आफ कामन्स और अमेरिका में हाउस आफ रिप्रेजेंटेटिव और सीनेट के सदस्यों के आधिकारिक और व्यक्तिगत ट्वीट्स पर आधारित है।

इस अध्ययन को फेरेंक हुस्जर (ट्विटर, कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय), सोफिया इरा केटेना ( डीपमाइंड टेक्नोलाजीज), कानर ओ'ब्रायन (ट्विटर), लुका बेली (ट्विटर), एंड्रयू श्लाइकजर (ट्विटर), और मोरित्ज हार्ड्ट (यूसी बर्कले) द्वारा आयोजित किया गया था।                                                                                  

तलाशे गए इन सवालों के जवाब 

- एल्गोरिदम दक्षिणपंथी राजनीतिक विचारधारा वाली सामग्री को कितनी प्रथमिकता देता है?

- क्या एल्गोरिदम की प्रथमिकता राजनीतिक दलों में भिन्न होती है?

- क्या एल्गोरिदम कुछ राजनीतिक समूहो को एल्गोरिथम अधिक प्रथमिकता देता है?

- क्या ये रुझान पूरे देश में एक जैसे हैं?

- क्या कुछ समाचार मीडिया को दूसरों की तुलना में एल्गोरिदम द्वारा अधिक प्रथमिकता दी जाती हैं?

Edited By: Manish Pandey