वाशिंगटन, एएनआइ। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को बड़ी चेतावनी दी है। ट्रंप ने पाकिस्तान को सीमा पार से घुसपैठ रोकने के लिए कहा है, साथ ही ट्रंप ने पाकिस्तान से भारत पर हमला करने वाले आतंकी समूहों पर लगाम लगाने की बात कही है।

अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को घुसपैठ रोकने के लिए कहा है। अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान से एलओसी पर घुसपैठ रोकने के लिए कहा है। इसके अलावा ट्रंप ने पाकिस्तान से भारत पर हमला करने वाले समूहों की गतिविधियां बंद करने के लिए कहा है। जी 7 पर एक मीडिया ब्रीफिंग के दौरान अमेरिकी प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी ने यह बातें कही हैं।

कश्मीर मसले पर हो सकती है बातचीत
अमेरिकी अधिकारी ने जी 7 शिखर सम्मेलन(G7 Summit) के दौरान पीएम मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप के बीच मुलाकात को लेकर भी बयान जारी किया। उन्होंने कहा कि जी-7 शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप कश्मीर मुद्दे पर बातचीत कर सकते हैं। इस दौरान ट्रंप, भारत से कश्मीर में तनाव कम करने को लेकर बात कर सकते हैं, साथ ही कश्मीर में मानवाधिकारों का सम्मान किए जाने पर भी चर्चा की जा सकती है।

हालांकि अमेरिका कश्मीर मुद्दे पर भारत से बातचीत का दावा कर रहा है लेकिन भारत इस मुद्दे पर हर बार अपनी बात दोहराता रहा है कि अनुच्छेद 370 हटाना उसका आंतरिक मामला है और कश्मीर पर विवाद एक द्विपक्षीय मामला है। इसलिए कश्मीर मुद्दा दोनों देश(भारत-पाकिस्तान) मिलकर ही निपटाएंगे। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप बार-बार मध्यस्थता की बात कहते हैं लेकिन अमेरिकी प्रशासन ने कश्मीर को एक आंतरिक और द्विपक्षीय मामला बताया है।

बता दें, प्रधानमंत्री मोदी जी-7 समिट में हिस्सा लेने के लिए फ्रांल पहुंचे हैं। जी-7 समिट में ट्रंप और पीएम मोदी की मुलाकात 26 अगस्त(रविवार) को होगी।

कश्मीर पर मिला भारत को फ्रांस का साथ
इससे पहले गुरुवार को फ्रांस पहुंचने पर पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से द्विपक्षीय बातचीत की, इस दौरान दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई। इसमें कश्मीर और आतंकवाद पर भी दोनों देशों के नेताओं ने बात की। कश्मीर मुद्दे पर फ्रांस खुलकर भारत के साथ आ गया है।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने भारत और पाकिस्तान से कश्मीर मुद्दे को बातचीत से सुलझाने की अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर कोई तीसरा पक्ष न दखल दे और न ही कश्मीर में हिंसा भड़काने वाला काम करे।वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में फ्रांस के सहयोग की सराहना की।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान और चीन को बड़ा झटका, अल्पसंख्कों संग भेदभाव पर UN ने लगाई फटकार

इसे भी पढ़ें: ट्रंप ने अफगानिस्तान में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में मांगा भारत का सहयोग, PAK को बड़ा झटका

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप