वाशिंगटन, प्रेट्र। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने नशीली दवाओं का उत्पादन और पारगमन वाले देशों में भारत को 21 अन्य देशों के साथ रखा है। बड़े पैमाने पर मादक द्रव्य बनाने या पारगमन वाले अन्य एशियाई देशों में अफगानिस्तान, पाकिस्तान और म्यांमार को शामिल किया गया है।

राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा निर्धारित किए गए इन समूहों में बहमास, बेलिज, बोलीविया, कोलंबिया, कोस्टा रिका, डोमिनिकन गणराज्य, इक्वाडोर, अल सल्वाडोर, ग्वाटेमाला, हैती, होंडुरास, जमैका, लाओस, मैक्सिको, निकारागुआ, पनामा, पेरू और वेनेजुएला शामिल हैं।

ट्रंप ने कहा कि इस सूची में किसी देश की मौजूदगी जरूरी नहीं कि उसकी सरकार के मादक पदार्थ निरोधी प्रयासों या अमेरिका के साथ उनके सहयोग के स्तर को दिखाती है। इस सूची में इन देशों को रखे जाने के पीछे भौगोलिक, व्यावसायिक और आर्थिक कारण हैं, जिसके चलते नशीले पदार्थो का पारगमन या उत्पादन होता है। भले ही कोई सरकार मादक पदार्थो के नियंत्रण संबंधी ठोस और सतत कदम क्यों न उठा रही हो।

इसी तरह बोलीविया और वेनेजुएला को ट्रंप ने उन देशों में रखा है, जो पिछले 12 महीनों में अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ निरोधी समझौते का पालन करने में नाकाम रहे हैं। उन्होंने कहा कि नशीले पदार्थो के उत्पादन और इसके पारगमन के खिलाफ अमेरिका का प्रयास जारी रहेगा।

Posted By: Ravindra Pratap Sing