वाशिंगटन, एपी। ट्रांसजेंडर कार्यकर्ता साराह मैकब्राइड (Sarah McBride) ने मंगलवार को डेलावेयर ( Delaware) में डेमोक्रेटिक स्टेट सीनेट प्राइमरी में जीत हासिल की है। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के कार्यकाल के दौरान  व्हाइट हाउस में मैकब्राइड ने इंटर्न के तौर पर काम किया था और 2016 डेमोक्रेटिक नेशनल कंवेंशन में बोलने वाली पहली ट्रांसजेंडर शख्स बन इतिहास रच दिया था। 30 वर्षीय मैकब्राइड ने मानवाधिकारों के लिए नेशनल प्रेस सेक्रेटरी का पद भी संभाला। मंगलवार को उन्होंने जोसेफ मैककोल (Joseph McCole) को हराकर नवंबर के आम चुनावों की ओर कदम बढ़ाया।

साराह ने जीत के बाद ट्वीट कर खुशी का इजहार किया और लिखा, 'आज रात एक पावरफुल सिग्नल मिला है कि हम जैसे उम्मीदवार भी जीत सकते हैं। सभी को सरकार में शामिल होने का हक है, अपने सपनों को पूरा करने का हक है और अपने समुदाय द्वारा स्वीकार किए जाने का अधिकार है।' 

मैक ब्राइड के कैंपेन ने देश भर में लोकप्रियता बटोरी और 250,000 डॉलर से अधिक डोनेशन इकट्ठा किए। मैकब्राइड की प्राथमिकताओं में सभी वर्करों को भुगतान सहित फैमिली और मेडिकल अवकाश दिए जाएंगे। इसके अलावा पब्लिक स्कूलों को सशक्त किया जाएगा और हेल्थ केयर इंडस्ट्री के विकास पर भी ध्यान दिया जाएगा। अमेरिकी यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट बॉडी की अध्यक्ष रहीं मैकब्राइड ने 2004 में एटॉर्नी जनरल के लिए मैट डेन (Matt Denn ) के  वॉलंटियर के तौर पर राजनीति में शुरुआत की।

नवंबर में होने वाले चुनाव में जीत हासिल करने पर वह चुनिंदा ट्रांसजेंडर सीनेटर की सूची में शामिल हो जाएंगी। हालांकि राज्य से वह पहली ट्रांसजेंडर सीनेटर होंगी। मैकब्राइड ने कहा था, 'मैं इस चुनाव में जी-जान लगा रही हूं। मेरी पहचान, मैं जो हूं उसका एक हिस्सा है, लेकिन केवल एक हिस्सा है।' उन्होंने कहा, 'मैं अपनी पहचान के आधार पर नहीं बल्कि अपने मूल्यों और मेरे निर्वाचन क्षेत्र की जरूरतों के आधार पर कानून बनाना चाहूंगी।'

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस