लास एंजेलिस, एएनआइ। अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के द्वारा गर्भपात के संवैधानिक अधिकार को समाप्त करने के बाद, देशभर में विरोध शुरू हो गया है। शुक्रवार को ह्यूस्टन, टेक्सास में एक संघीय न्यायालय के सामने 200 से अधिक लोग इकट्ठा हो फैसले का विरोध किया। नागरिकों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की। वहीं दूसरी तरफ कैलिफोर्निया के गवर्नर गेविन न्यूजाम ने शुक्रवार को रो बनाम वेड को पलटने के फैसले की आलोचना की। उन्होंने कहा कि यह फैसला दिखाता है कि संयुक्त राज्य में 'महिलाएं समान नहीं हैं।'

बता दें कि Roe v. Wade पलटने के जवाब में तत्काल कार्रवाई के रूप में, न्यूजाम ने कैलिफोर्निया में रोगियों और स्वास्थ्य प्रदाताओं को अन्य राज्यों के कानूनों के आधार पर दीवानी मुकदमों से बचाने के लिए एक बिल पर हस्ताक्षर किया।

न्यूजाम ने स्थानीय राजनीतिक नेताओं के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में यह टिप्पणी कर कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका में सबसे अधिक आबादी वाले राज्य गोल्डन स्टेट में, गर्भपात सेवाओं की मांग करने वाले अन्य राज्यों से महिलाओं की सुरक्षा के लिए तत्काल कार्रवाई की घोषणा की जाए।

वहीं अमेरिकी अटार्नी जनरल मेरिक गारलैंड ने शुक्रवार को उल्लेख किया कि सत्तारूढ़ राज्यों को गर्भपात को कानूनी रखने से प्रतिबंधित नहीं करता या महिलाओं को पहुंच वाले राज्यों की यात्रा करने से रोकता है। लेकिन यह आशंका बढ़ रही है कि नवीनतम निर्णय के बाद रूढ़िवादी राज्यों में अधिक गर्भपात प्रतिबंध समस्याओं को ट्रिगर करेगा। उनके और उन राज्यों के बीच न्यायिक व्यवस्था जहां गर्भपात कानूनी है।

37 वर्षीय वकील ने कहा

  • पेनसिल्वेनिया के उपनगरीय बक्स काउंटी में एक कैफे के बाहर काम करने वाली 37 वर्षीय वकील ने कहा कि उन्हें विश्वास नहीं हो रहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने गर्भपात के संवैधानिक अधिकार को छीन लिया है।
  • उसने कहा- 'मुझे समझ में नहीं आता कि वे इस निष्कर्ष पर कैसे पहुंच सकते हैं।' 

Edited By: Ashisha Rajput