वाशिंगटन, एपी।  अमेरिका की स्पेस फोर्स (US Space Force) का अब अपना झंडा होगा। स्पेस फोर्स ने अपना नया झंडा पेश किया है।  डिफेंस डिपार्टमेंट के अधिकारियों  ने शुक्रवार को ओवल ऑफिस की एक मीटिंग में  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समक्ष स्पेस फोर्स का झंडा पेश किया जिसे राष्ट्रपति ने  सुपर-डुपर मिसाइल बताया।

2019 में हुआ था स्पेस फोर्स का गठन

पिछले साल ही अंतरिक्ष में अपनी स्थिति मजबूत बनाने के लिए अमेरिका ने आधिकारिक तौर पर स्पेस कमांड लॉन्च किया था।  ट्रंप प्रशासन की ओर से नई यूएस स्पेस फोर्स के गठन की दिशा में यह काफी अहम कदम है।  यूएस स्पेस फोर्स अमेरिकी सेना की छठी शाखा है जो अंतरिक्ष जगत में देश का दबदबा बढ़ाएगी। 

ओवल ऑफिस में भी दिखेगा झंडा

झंडा गहरे ब्लूू रंग का है जो पहली बार में काले रंग का प्रतीत होता है। इसमें तीन बड़े बड़े स्टार लगे हैं और स्पेस फोर्स का सिग्नेचर डेल्टा लोगो इसके केंद्र में बना है। इसके अलावा इसमें लिखा है, 'यूनाइटेड स्टेट्स स्पेस फोर्स (United States Space Force)।' इसके नीचे रोमन नंबर - MMXIX (2019) अंकित है। इसी साल स्पेस फोर्स का आधिकारिक तौर पर गठन किया गया था। 72 सालों में यह पहला नया मिलिट्री झंडा है। यह ओवल ऑफिस में अन्य झंडों के साथ ही रहेगा।

 2020 आर्म्ड फोर्सेज डे अपील पर हस्ताक्षर करने के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा,  'सुरक्षा और हमले के लिए स्पेस  हमारा भविष्य बनने जा रहा है। साथ ही रिपोर्टों के आधार पर जो भी सुनने को मिल रहा है उससे यह स्पष्ट है कि अब हम स्पेस के लीडर हैं।' राष्ट्रपति  ट्रंप ने कहा कि अमेरिका 'सुपर-डुपर' मिसाइल बना रहा है जो मौजूदा मिसाइल की तुलना में 17 गुना तेजी से ट्रैवेल करेगा। 1947 में गठित  अमेरिकी एयरफोर्स  के बाद साल 2019 के दिसंबर में पहली मिलिट्री सर्विस स्पेस फोर्स का गठन किया गया।

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस