वाशिंगटन, एएफपी। अमेरिकी अखबार वाशिंगटन पोस्ट का कहना है कि सऊदी अरब की सरकार ने पत्रकार जमाल खशोगी के बेटे-बेटियों को लाखों डॉलर के घर दिए हैं। यही नहीं, पिता की मौत के मुआवजे के तौर पर उन्हें सऊदी सरकार से हर माह हजारों डॉलर दिए जा रहे हैं।

खशोगी की पिछले साल दो अक्टूबर को तुर्की की राजधानी इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड को रियाद से भेजे गए 15 एजेंटों ने अंजाम दिया था। वाशिंगटन पोस्ट के अनुसार, खशोगी के बेटे-बेटियों को मुआवजा इसलिए दिया जा रहा है ताकि वह इस मामले में संयमित बयान दें।

खशोगी के दो बेटे और दो बेटियां हैं। उन्हें जेद्दा में दिए गए घर की कीमत 40 लाख डॉलर (करीब 27 करोड़ रुपये) बताई जा रही है। खशोगी का बड़ा बेटा सालेह सऊदी में ही रहता है जबकि अन्य तीन अमेरिका में हैं। खशोगी के बच्चों ने अभी तक सऊदी सरकार के खिलाफ कोई बयान नहीं दिया है।

वाशिंगटन पोस्ट के लिए लिखने वाले सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के आलोचक खशोगी का शव अभी तक बरामद नहीं किया जा सका है। शुरुआत में सऊदी सरकार ने दावा किया था कि उसे इस हत्याकांड की कोई जानकारी नहीं है। लेकिन बाद में उसने अपने दूतावास में खशोगी की हत्या किए जाने की बात कबूलते हुए 11 लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि प्रिंस की इजाजत पर ही इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया। हालांकि सऊदी सरकार इससे इन्कार करती रही है।

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप