न्यूयॉर्क,एएनआइ। संयुक्त राष्ट्र में रूस के उप स्थाय प्रतिनिधि गेनाडी कूजमिन ने मंगलवार को कहा कि प्रतिबंधित आतंकवादी समूह आईएसआईएस से संबंधित लगभग 3,000 लोग सीरिया में अभी भी मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में इस्लामिक स्टेट [आईएसआईएस] के सदस्यों और सीरिया में उनके सहयोगियों की कुल संख्या लगभग 3,000 तक है। 

राजदूत ने कहा कि इनके अलावा सीरिया में बाकी आतंकवादी समूद भी मौजूद है। उन्होंने बताया कि उन सभी में से अधिकतर युद्ध करने के लिए तैयार बैठे है। भले ही अमेरिकी नेतृत्व वाली सेनाओं ने इस साल की शुरुआत में सीरिया और इराक में आईएसआईएस के कब्जे वाले सभी क्षेत्रों पर कब्जा कर लिया था, लेकिन यह आतंकी समूह अभी भी इस क्षेत्र में मौजूद है और साथ ही उन्होंने कई छोटे मोटे हमलों की जिम्मेदारी भी ली है।

दक्षिण एशिया में ISIS खुरासान पर प्रतिबंध
गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने भारत समेत दक्षिण एशिया में पैर जमाने की कोशिश कर रहे संगठन आइएसआइएस खुरासान पर इसी साल प्रतिबंध लगा दिया था। अल-कायदा से संबंध रखने और अफगानिस्तान और पाकिस्तान में कई हमले कराने के लिए इस पर पाबंदी लगाई गई है।

 इस आतंकवादी संगठन का गठन 2015 में पाकिस्तानी नागरिक और तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के एक पूर्व कमांडर ने किया था। इन हमलों में 150 से अधिक लोगों की जान गई थी और बड़ी संख्या में लोग घायल हुए थे।

ये भी पढ़ें : दुनिया भर की मीडिया में छाया मोदी का विदेश दौरा, Khaleej Times ने दी विशेष कवरेज

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप