वाशिंगटन (आइएएनएस)। एलियन लाइफ के लिए जारी खोज को नासा के नए अध्‍ययन से सकारात्‍मक समर्थन मिल रहा है। अध्‍ययन के अनुसार, हमारे बाहरी सौर मंडल में प्‍लूटो समेत कुछ बर्फीली दुनिया है जहां पानी के समंदर होने की संभावना है।

जर्नल इकारस में छपे अध्‍ययन में कहा गया, बड़े टकराव के बाद निर्मित चांद के गुरुत्‍वाकर्षणीय खिंचाव से पैदा हुई ऊष्‍मा से जलीय सागरों की उम्र बढ़ सकती है।

यह बर्फीली दुनिया नेपच्‍यून, प्‍लूटो और इसके चांद के ऑर्बिट के बाहर है। इसे Trans-Neptunian Objects (TNOs) के तौर पर जाना जाता है। साथ ही तापमान -200 डिग्री सेल्‍सियस से भी नीचे होने के कारण सतह पर तरल रूप में पानी का मौजूद होना मुश्‍किल है। हालांकि कुछ गवाह हैं जिनके अनुसार बर्फ के नीचे कहीं कहीं तरल रूप में पानी मौजूद है।

मैरिलैंड स्‍थित ग्रीन बेल्‍ट में नासा के गोड्डार्ड स्‍पेस फ्लाइट सेंटर के वेड हेन्‍निंग ने कहा, ‘हमें पता चला कि प्‍लूटो और एरिस जैसे बड़े TNOs की सतह के नीचे जल मौजूद हो सकता है।‘

इस नए अध्‍ययन से कई जगहों पर जीवन होने की संभावना को बढ़ावा मिलता है। नासा के शोधकर्ता प्रबल सक्‍सेना ने कहा, ‘इन वस्‍तुओं को जल और जीवन के लिए गतिमान स्रोतों के तौर पर लिए जाने की आवश्‍यकता है।‘ उन्होंने आगे बताया कि हमारी यह इस बात की ओर संकेत देती है कि हमारे सौर मंडल में कई और ऐसे ग्रह हैं जहां जीवन के पनपने के लिए काफी अहम तत्व मौजूद हैं।

शोधकर्ताओं ने पता लगाया कि चंद्रमा के साथ गुरुत्‍वाकर्षण के कारण गरमी पैदा होती है जो Trans-Neptunian Object की सतह पर जलीय समंदर के जीवन को बढ़ाने के लिए काफी है।

यह भी पढ़ें: 2020 में मंगल पर नया शोध यान भेजेगा नासा

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस