न्यूयॉर्क, एएफपी। अमेरिका में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। न्यूयॉर्क में पिछले 24 घंटे में 799 लोगों की मौत हो गई है, हालांकि गवर्नर एंड्रयू कुओमो ने कहा कि महामारी स्थिर हो रही है।

न्यूयॉर्क गवर्नर कुओमो ने कहा कि पिछले 24 घंटों में यहां 779 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद न्यूयॉर्क राज्य में कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 6,268 हो गया है। जबकि सोमवार को कोरोना वायरस से 731 लोगों की मौत हुई थी।

वहीं, अमेरिका में लगातार दूसरे दिन भी कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 2000 के पार ही रहा, जबकि अबतक 14000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। वायरस से संक्रमितों की संख्या चार लाख से अधिक हो गई है।

गवर्नर ने कहा कि अमेरिका के घातक कोरोना वायरस महामारी का सबसे ज्यादा खामियाजा न्यूयॉर्क को भुगतना पड़ रहा है। कोरोना वायरस से देशभर हुई कुल मौतों में से आधी न्यूयॉर्क में हुई हैं। मामलों में बढ़त्तरी के बावजूद सोशल डिस्टेंसिंग के कारण अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले लोगों की दर में कमी जारी है।

उन्होंने कहा कि अगर अगले दो हफ्ते तक अस्पताल की व्यवस्था स्थिर रहेगी, तो अस्थायी अस्पतालों की आवश्यकता कम से कम हो जाएगी।मरीजों के इलाज के लिए सेंट्रल पार्क में फील्ड में एक कन्वेंशन सेंटर और एक अमेरिकी नौसेना के जहाज पर अस्पताल बनाए गया है।

सोमवार को गवर्नर ने राज्यव्यापी लॉकडाउन और गैर-जरूरी व्यवसायों और स्कूलों ले लिए 29 अप्रैल तक बढ़ा दिया। उन्होंने एक बार फिर लोगों को अपने घरों में रहने और जब तक कि बिल्कुल जरूरी न हो बाहर न निकलने की अपील की है।

न्यूयॉर्क सिटी के मेयर बिल डी ब्लासियो ने कहा कि न्यूयॉर्क में मरने वालों की संख्या अधिक हो सकती है क्योंकि घर पर होने वाली कई मौतों को गिना नहीं जा रहा है। इस बीच, बुधवार को जारी प्रारंभिक आंकड़ों से पता चला है कि न्यूयॉर्क के लातीनी और अफ्रीकी-अमेरिकी समुदाय के लोग दूसरों की तुलना में कोविड-19 से अधिक दर पर मर रहे हैं।

जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के मुताबिक वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 15 लाख को पार कर गई है, जबकि अब तक कुल 88 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा, दुनिया भर में वायरस से संक्रमित तीन लाख लोग ठीक हो चुके हैं।

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस