न्यूयार्क [द न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स]। अमेरिका में वैक्सीन की दोनों खुराक लेने वालों के लिए भी मास्क की अनिवार्यता से अब माहौल तेजी से बदल गया है। लोगों के चेहरे से उतरे हुए मास्क फिर आ गए हैं। प्रशासन का पूरा जोर अब वैक्सीन लगाने पर है। बाइडन प्रशासन सरकारी कर्मचारियों के लिए इसी हफ्ते कोरोना की नई गाइडलाइन जारी करेगा। न्यूयार्क में तो वैक्सीन का पहली खुराक लेने वालों को 100 डालर देने की घोषणा की गई है।

डेल्टा वैरिएंट के कारण अमेरिका में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। दो माह पहले सेंटर फार डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (सीडीसी) ने मास्क लगाने से छूट दे दी थी। कई पाबंदियों को हटा लिया गया था। उसके बाद अमेरिकी बाजारों में फिर बहार लौट आई थी। लोग कोरोना को भूलने लगे थे और चेहरों से मास्क उतर गए थे। सीडीसी के द्वारा इनडोर में मास्क पहनने की अनिवार्यता के बाद अमेरिकी शहरों में तस्वीर बदल गई है। सावधानी और डर के कारण माहौल एकदम बदल गया है।

न्यूयार्क में रेस्तरां और बार में फिर एहतियात देखा गया। यहां के मेयर बिल डी ब्लेसिओ ने घोषणा की है कि जो भी नागरिक न्यूयार्क के वैक्सीन सेंटर में पहली खुराक लगवाएंगे, उन्हें 100 डालर (करीब 7426 रुपये) दिए जाएंगे। इधर बाइडन प्रशासन कोरोना के संबंध में संघीय कर्मचारियों के लिए नई गाइड लाइन जारी करेगा। इसमें वैक्सीन की दोनों खुराक लेने, शारीरिक दूरी का पालन करने, नियमित जांच और मास्क लगाने की अनिवार्यता होगी।

यही नहीं यात्रा के संबंध में भी नई गाइडलाइन जारी की जा सकती है। व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने बताया कि सप्ताह के अंत तक राष्ट्रपति की योजना के बारे में जानकारी दे दी जाएगी। इस बीच संघीय स्वास्थ्य नियामकों ने जॉनसन एंड जॉनसन की कोविड-19 वैक्सीन की एक्सपायरी डेट को बढ़ा दिया है। इससे स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की लाखों खुराक का उपयोग करने के लिए छह और सप्ताह का समय मिल गया है।