वाशिंगटन, प्रेट्र। जलवायु परिवर्तन के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रतिबद्धता की तारीफ करते हुए अमेरिकी हाऊस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्‍स की स्‍पीकर नैंसी पेलोसी ने बुधवार को कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री ने गांधीजी के मूल्‍यों को बरकरार रखा है। नैंसी पेलोसी ने कहा, ‘पृथ्‍वी के लिए खतरा पैदा करने वाले चुनौतियों से वे बेहतर तरीके से निपट रहे हैं, और इसके लिए उनकी प्रतिबद्धता सराहनीय है।’

जलवायु परिवर्तन पर समझौता संपन्‍न कराने की प्रधानमंत्री मोदी की प्रतिबद्धता की ओर इशारा करते हुए पेलोसी ने कहा, ‘यह आसान नहीं था। लेकिन यह संपन्‍न हुआ।’ उन्‍होंने आगे कहा, ‘जब प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस के संयुक्‍त सत्र को संबोधित करने वाशिंगटन आए तब उनके संबोधन से पहले हमने उनसे मुलाकात की। मैंने उनके समक्ष जलवायु संकट का मुद्दा उठाया और उनके नेतृत्‍व के लिए शुक्रिया अदा किया। उन्‍होंने महात्‍मा गांधी व पर्यावरण के बारे में बात की।’

पेलोसी ने कहा, ‘भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि चाहे वह जल संरक्षण का मुद्दा या कोई और, गांधी जी ने प्रकृति प्रदत चीजों की अहमियत व कीमत को समझा।’ उन्होंंने आगे कहा, ‘यदि आज गांधीजी जीवित होते तो भगवान के बनाए हुए पृथ्वी के लिए खतरों को चुनौती देते हुए मूवमेंट का नेतृत्व करते।'  अमेरिका में भारतीय राजनयिक हर्षवर्द्धन श्रींगला ने कहा, ‘हालांकि गांधी कभी अमेरिका नहीं जा सके लेकिन वहां उनके कामों की तारीफ होती है और अनुसरण किया जाता है।'

गांधी जी की 150वीं जयंती के मौके पर भारतीय दूतावास की ओर से ऐतिहासिक कांग्रेस लाइब्रेरी में इवेंट का आयोजन किया गया था। इसी इवेंट में नैंसी पेलोसी ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की। इस अवसर पर भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पेलोसी को महात्‍मा गांधी की प्रतिमा भेंट की। पेलोसी ने कहा, ‘इसे मैं अभिमान के साथ वाशिंगटन स्‍थित स्‍पीकर के ऑफिस में प्रदर्शित करूंगी ताकि जो भी यहां आए वो देखे कि हमारे पास गांधीजी के लिए सम्‍मान व प्रेरणा है।’

यह भी पढ़ें: 2100 तक एक मीटर बढ़ जाएगा समुद्र का स्तर, रहने लायक नहीं बचेगा अंडमान-निकोबार, यूएन ने दी चेतावनी

यह भी पढ़ें: जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थंबर्ग ने ट्रंप समेत आलोचकों को कुछ यूं दिया जवाब

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप