लंदन, रायटर।  ब्रिटेन के इंग्लैंड और स्काटलैंड में सोमवार को 1,57,758 नए मामले सामने आए। इटली में 68 हजार नए केस मिले और 140 लोगों की मौत हो गई। पिछले दिनों के मुकाबले नए मामलों में कमी आई है। ब्रिटेन में नए मामले दो लाख को पार कर गए थे, जबकि इटली में एक लाख से अधिक मामले मिल रहे थे। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने सोमवार को कहा कि ओमिक्रोन से मामले तो बढ़ रहे हैं, लेकिन संक्रमण हल्का होने से कुछ ही लोगों को आइसीयू में रखने की जरूरत पड़ रही है। इनमें भी ज्यादातर वो लोग शामिल हैं जिन्होंने बूस्टर डोज नहीं लगवाई है। इसको देखते हुए जानसन ने लोगों से बूस्टर डोज लेने की अपील की है, ताकि संक्रमित होने पर भी उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की नौबत नहीं आए।

ब्रिटेन में किए गए एक नवीनतम अध्ययन में पाया गया है कि बूस्टर डोज ओमिक्रोन से संक्रमण पर अस्पताल में भर्ती होने के खतरे को 88 प्रतिशत कम करती है। इटली के कई क्षेत्रों में दिसंबर में ही पहुंच गया था ओमिक्रोन इटली में सीवेज के पानी को लेकर किए गए एक अध्ययन में पता चला है कि पिछले साल दिसंबर में ही कई क्षेत्रों में ओमिक्रोन फैल गया था। 19 और 20 दिसंबर के बीच देश के 20 में से 14 क्षेत्रों में सीवेज के पानी में यह संक्रमण मिला है। इस पानी 282 नमूनों में से 28.4 प्रतिशत में ओमिक्रोन पाया गया था।

अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 12 से 15 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को फाइजर-बायोएनटेक की बूस्टर यानी तीसरी डोज लगाने की स्वीकृति दे दी है। साथ ही उसने प्राथमिक डोज के बाद बूस्टर डोज लगाने के अंतराल को भी एक महीना घटाते हुए पांच महीने कर दिया है। एफडीए ने कमजोर प्रतिरक्षा वाले पांच से 11 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को तीसरी डोज लगाने की भी सहमति दे दी है।

Edited By: Monika Minal