न्यूयार्क, एएनआइ/रायटर। अमेरिका के राज्य न्यूयार्क और न्यूजर्सी के गर्वनरों ने बुधवार को रिकार्ड तोड़ बरसात के बाद दोनों राज्यों में इमरजेंसी की घोषणा कर दी है। इडा उष्णकटिबंधीय तूफान के चलते अनवरत बारिश हुई हैं और दोनों राज्यों में इसके चलते नौ लोग मारे गए हैं। सड़कों पर पानी भर गया है, कारें बह रही हैं, उड़ानें ठप पड़ गई हैं, सबवे डूब गए हैं और कई निचले इलाकों में घर डूब गए हैं।

न्यूयार्क की गर्वनर कैथी होचुल ने यात्रियों से घर में रहने को कहा है और घर से ही काम करने की अपील की है। साथ ही ट्रेनों के परिचालन को बहाल करने के लिए कुछ मोहलत मांगी है। उन्होंने कहा कि फिलाडेल्फिया से न्यूयार्क सिटी तक प्रति घंटे 2 से तीन इंच (5 से 7.6 सेंटीमीटर) बारिश हुई है।

न्यूयार्क सिटी के मेयर बिल डे ब्लासियो के अनुसार खराब मौसम के बीच बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है। न्यूयार्क में दो साल के बच्चे समेत आठ लोगों की मौत हो गई जबकि न्यूजर्सी में एक व्यक्ति की अत्यधिक बरसात से मौत हुई है। फिलाडेल्फिया में पांच फ्लैश फ्लड के आसार पैदा हुए हैं।

न्यूयार्क के मेयर बिल डी ब्लासियो ने ट्वीट कर बताया, 'मैं आज रात न्यूयॉर्क में आपातकाल की स्थिति घोषित कर रहा हूं।' उन्होंने लिखा, 'आज रात जनता सड़कों पर न आए और हमारे पहले कर्मचारी व आपातकालीन सेवाओं को अपना काम करने दें।' उन्होंने आगे कहा कि अगर आप बाहर जाने की सोच रहे हैं तो ऐसा न करें। मेट्रो से दूर रहें। सड़कों से दूर रहें। पानी से भरी सड़कों पर ड्राइव न करें। अंदर रहें।

सीएनएन की रिपोर्ट में बताया गया था कि ट्रापिकल स्टार्म इडा के कारण होने वाली बारिश और उत्तरी मध्य अटलांटिक के कुछ हिस्सों में अचानक बाढ़ और बवंडर के खतरे के कारण न्यूयार्क शहर की लगभग सभी मेट्रो लाइनों को बुधवार देर रात निलंबित कर दिया गया था।

नेशनल वेदर सर्विस द्वारा बुधवार शाम को कम से कम पांच बार बाढ़ को लेकर चेतावनी जारी की गई। यह उत्तरी न्यू जर्सी से फिलाडेल्फिया के पश्चिम तक के लिए थी। इससे पहले रात में, न्यू जर्सी के गवर्नर फिल मर्फी ने भी इडा को देखते हुए आपातकाल की स्थिति घोषित कर दी थी।

Edited By: Nitin Arora