वाशिंगटन, एजेंसी । हाउडी मोदी मेगा शो का क्रेज न केवल अमेरिकी सत्‍ता पर काबिज रिपब्लिकन के लिए है, बल्कि विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसदों ने भी इसमें अपनी गहरी दिलचस्‍पी दिखाई है। हाउस की नेता व डेमोक्रेट की वरिष्‍ठ नेता स्‍टेनी हेयर भी इस मेगा शो में शिरकत करेंगी और संबोधन भी करेंगी। यह दोनों देशों के बीच मजबूत द्विदलीय समर्थन को दर्शाता है। 

हालांकि, व्‍यस्‍तताओं के कारण कई वरिष्‍ठ डेमोक्रेट्स नेता जैसे नैन्‍सी पेलोसी, तुलसी गेबार्ड और ब्रैड शरमन ने इसमें शिरकत करने की अपनी असमर्थता जाहिर की है। उन्‍होंने इस मेगा शो का स्‍वागत तो किया है, लेकिन यह भी कहा है कि वह कार्यक्रम में शिरकत नहीं कर पाएंगें। गेबार्ड ने स्‍पष्‍ट किया कि वह अपने निर्धारित राष्‍ट्रपति अभियानों से संबंधित पूर्व प्रतिबद्धताओं के कारण इस कार्यक्रम में उपस्थित नहीं हो पाएंगी।

मोदी के इस मेगा शो में शामिल हाेने के लिए कई इच्‍छुक डेमोक्रेट्स ने इस बयान के बाद अपने कदम पीछे खींच लिए हैं। वरिष्‍ठ डेमोक्रेटिक्‍ कांग्रेसी ब्रैड शेरमन ने कहा कि इस कार्यक्रम में कांग्रेसी भी शिरकत नहीं करेंगे। हालांकि सियासी जगत में यह घटना लोगों को चकित कर रही है। क्‍यों‍कि कैलिफोर्निया के डेमोक्रट ने अपने मोदी के मेगा शो में भाग लेने का आग्रह किया था। लेकिन बाद वह इस कार्यक्रम में नहीं पहुंच पाने में अपनी असमर्थता जताई। सूत्रों के अनुसार, यूनाइटेड स्टेट्स हाउस की स्पीकर नैन्सी पेलोसी भी व्यक्तिगत प्रतिबद्धताओं के कारण इस आयोजन को मिस कर रही हैं। 

उधर, व्‍हाइट हाउस ने घोषणा की है कि राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप 22 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सार्वजनिक संबोधन में भाग लेंगे ताकि भारत-अमेरिका द्विपक्षीय साझेदरी को और मजबूत किया जा सके। माना जाता है कि संयुक्त राज्य अमेरिका के इतिहास में सरकार के किसी विदेशी प्रमुख का स्वागत करने के लिए सबसे बड़ी घटनाओं में से एक है। यह पहली बार चिह्नित करेगा कि दोनों नेता राजधानी वाशिंगटन डीसी या न्यूयॉर्क के बाहर मिलेंगे, जहां संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय है। इस आयोजन के लिए पहले ही 50,000 से अधिक लोग पंजीकृत हो चुके हैं, जिसकी मेजबानी टेक्सास इंडिया फोरम करेगा।

 

Posted By: Ramesh Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप