वाशिंगटन, एजेंसियां। डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति प्रत्याशी जो बिडेन ने कहा कि अगर वह राष्ट्रपति होते और वैज्ञानिक कोरोना की रोकथाम के लिए पूरे देश को बंद करने की सलाह देते तो वह ऐसा ही करते। उन्होंने कहा कि ट्रंप प्रशासन ने इससे निपटने में बुनियादी भूल की। एबीसी टीवी के साथ साक्षात्कार में बिडेन ने कहा, 'मैं वैज्ञानिकों की सलाह सुनता। लोगों की जान बचाने के लिए मैं हर वह कदम उठाता, जो इसके लिए जरूरी होता। वायरस पर नियंत्रण पाए बिना देश को खुला नहीं रखा जा सकता।'

वायरस पर नियंत्रण जरूरी

पूर्व उपराष्ट्रपति ने कहा, 'देश को चलाने के लिए, अर्थव्यवस्था में वृद्धि के लिए और लोगों की नौकरी बचाए रखने के लिए वायरस पर नियंत्रण जरूरी है। इससे सख्ती से निपटना होगा।' बिडेन का यह बयान इसलिए अहम है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि कोरोना के कारण पूरे देश को बंद नहीं रखा जा सकता। उन्होंने व्यापारिक प्रतिष्ठानों और शैक्षणिक संस्थानों को खोले जाने की जरूरत बताई थी।

सम्मेलन के दौरान बड़ी रकम जुटाई

डेमोक्रेटिक पार्टी के चार दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन के दौरान बिडेन कैंपेन और उसके सहयोगी समूहों द्वारा 70 मिलियन डॉलर (करीब 524 करोड़ रुपये) की रकम जुटाई गई। बिडेन चुनाव अभियान की ओर से यह जानकारी दी गई है।

भारतीय दंपती का प्रचार वीडियो

सिलिकॉन वैली में रहने वाले भारतीय-अमेरिकी दंपती ने एक म्यूजिकल वीडियो जारी कर जो बिडेन और कमला हैरिस को वोट देने की अपील की है। 143 सेकेंड का यह वीडियो विनीता भुटोरिया और उनके पति अजय भुटोरिया द्वारा जारी किया गया है। इसकी शुरुआत इस नारे से होती है, 'अमेरिका का नेता कैसा हो, जो बिडेन जैसा हो।' विनीता ने कहा कि भारतीय-अमेरिकियों को एक समुदाय के तौर पर एकजुट होकर उनका समर्थन करना चाहिए, जिन्हें हम सही मानते हैं।

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस