वाशिंगटन, एजेंसियां। अमेरिका में चुनाव प्रचार जोरों पर हैं। चुनाव प्रचार के दौरान कई बार भारत की आलोचना किए जाने से भारतीय-अमेरिकी नागरिकों के बीच ट्रंप आलोचना का विषय बन रहे हैं। कुछ ने तो ट्रंप को भारत का शत्रु तक बता दिया। भारतीयों के बीच डेमोक्रेट जो बिडेन और उपराष्ट्रपति पद की प्रत्याशी कमला हैरिस की जोड़ी अच्छी खासी लोकप्रियता हासिल कर रही है।

फाइनल डिबेट देखने वालों की संख्या घटी

भारतीयों का कहना है कि हमें ऐसा राष्ट्रपति चाहिए जो भारत की आलोचना करने के बजाय हमारी वास्तविक दिक्कतों को समझ सके। चार साल के ट्रंप शासन में देखने को मिला कि हमारी अगली पीढ़ी के लिए पहले जैसे अवसर नहीं हैं। इस बीच अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में गुरुवार को हुई फाइनल डिबेट में पहली डिबेट की तुलना में कम संख्या रही है। नीलसन कंपनी के अनुसार पहली डिबेट की तुलना में दस लाख दर्शकों की कमी दर्ज की गई है।

बिडेन ने किया मुफ्त वैक्‍सीन देने का वादा

नीलसन ने बताया है कि इस बार 63 लाख अमेरिकी नागरिकों ने ट्रंप और बिडेन के बीच हुई अंतिम डिबेट को देखा। ये संख्या 15 नेटवर्क पर प्रसारित की गई थी। इस बीच अमेरिकी चुनाव में राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेट प्रत्याशी जो बिडेन ने एलान किया है कि यदि वे चुने हैं तो देश के हर नागरिक को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन दी जाएगी।

ट्रंप की योजनाओं को बताया नाकाम

अपने गृह राज्य डेलावेयर में चुनाव प्रचार करते हुए बिडेन ने कोरोना से लड़ने में ट्रंप की योजनाओं को पूरी तरह असफल बताया। उन्होंने कहा कि ट्रंप ने अमेरिकियों को कोरोना में जीना नहीं, मरना सिखाया है। एक बार सुरक्षित और प्रभावी वैक्सीन का निर्माण हो जाए, उसके बाद पूरी अमेरिकी आबादी के लिए एक साथ वैक्सीन खरीदी जाएगी और हर नागरिक को यह मुफ्त में दी जाएगी।

हैरिस लगाया ट्रंप पर नस्लवादी होने का आरोप

उपराष्ट्रपति पद की डेमोक्रेट प्रत्याशी कमला हैरिस ने रिपब्लिक राष्ट्रपति प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप पर नस्लवादी होने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि ट्रंप ने पूर्व राष्ट्रपति बराम ओबामा पर भी इसी भावना के तहत सवाल उठाए थे। कमला ने जॉर्जिया में एक जनसभा में बोलते हुए कहा कि जनता मुझसे पूछती है कि ट्रंप नस्लवादी हैं, मेरा सीधा उत्तर होता है, हां। अब देश को ऐसा राष्ट्रपति चाहिए जो सिस्टम के सच को स्वीकार कर समाज की इस गंभीर समस्या को दूर करने का प्रयास करे।

ट्रंप बोले, बेहतरीन प्रशासन चलाने वाला चुनना चाहते हो या हताश

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान अपने प्रतिद्वदी जो बिडेन को हताश प्रत्याशी बताया है। वे कहते हैं कि आपने मेरे कामों को देख लिया है। अब आपको तय करना है आप आशावादी, देशभक्ति के साथ अमेरिका की सफलता चाहने वालों को लेकर आना चाहते हैं या फिर बिडेन जैसे उदास और निराशाबादी लोगों को।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस