वाशिंगटन, एएफपी। महाभियोग के आरोप में फंसे अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के लिए पूर्व अमेरिकी राष्‍ट्रपति जिमी कार्टर ने दो सलाह दी है। इसमें से एक है क‍ि अब ट्रंप को 'सच बोलना' चाहिए और ट्वीट कम करना चाहिए। कार्टर चाहते हैं क‍ि राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की ओर से महाभियोग की जांच में सहयोग दी जानी चाहिए। 

मंगलवार को एक साक्षात्‍कार में 95 वर्षीय कार्टर ने कहा, 'उनको मेरी सलाह है क‍ि सच बोलें। मेरा मानना है क‍ि इससे बदलाव होगा।' उन्‍होंने आगे कहा कि साथ ही उन्‍हें अपने ट्वीट भी घटाने होंगे।  

बता दें क‍ि व्‍हाइट हाउस ने ट्रंप का यूक्रेन के साथ बातचीत को लेकर महाभियोग मामले  की जांच में सहयोग से इंकार कर दिया। कागजातों व साक्षात्‍कारों के लिए सांसदों के आग्रह को ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों ने ठुकरा दिया।  दरअसल, 25 जुलाई को यूक्रेन के राष्‍ट्रपति वोलोदायमिर जेलेंस्‍की के साथ ट्रंप की फोन पर बातचीत से संबंधि‍त कागजात व साक्षात्‍कारों के रिकार्ड मांगे जा रहे हैं जिसमें ट्रंप की ओर से पूर्व उपराष्‍ट्रपति जो बिडेन की जांच के लिए बार-बार बोला गया। 2020 राष्‍ट्रपति चुनाव में जो बिडेन ट्रंप के प्रतिद्वंद्वी हैं। 

जांच में ट्रंप की ओर से सहयोग देने से इंकार को काटर्र ने कस्‍टम से अलग होने और अमेरिकी जनता की उम्‍मीदों से दूर होना बताया है। उन्‍होंने कहा, 'मुझे लगता है क‍ि यही वह अहम बात है जो फिलहाल अमेरिकियों के विचाराधीन है  और यहीं पर्याप्‍त जानकारी मुहैया कराने से अमेरिका मुकर रहा है।' इससे पहले भी कार्टर ने ट्रंप व उनके प्रशासन की निंदा की थी। वर्ष 1977 से 1981 तक अमेरिका के राष्‍ट्रपति जिमी कार्टर थे।  रविवार को कार्टर अपने घर में ही गिरने के कारण चोटिल हैं, उनके सिर पर 14 स्टिच लगे हैं।  

यह भी पढ़ें: महाभियोग पर बोले ट्रंप- डेमोक्रेट के पास दुर्भाग्य से मेरे खिलाफ वोट, लेकिन जीतूंगा मैं ही

यह भी पढ़ें: ट्रंप की मुश्किलें बढ़ी, एक और व्हिसलब्लोअर सामने आया, सत्ता के दुरुपयाेग के पुख्ता सबूत

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप