वाशिंगटन, प्रेट्र। भारतीय अर्थशास्त्री आभास झा को विश्व बैंक (World Bank) ने अहम पद पर नियुक्त किया है। उनकी क्षमता का उपयोग दक्षिण एशिया में जलवायु परिवर्तन और आपदा जोखिम प्रबंधन के लिए किया जाएगा। उनकी नियुक्ति ऐसे समय हुई है, जब चक्रवात एम्फन ने भारत में पश्चिम बंगाल, उड़ीसा और बांग्लादेश को भी बुरी तरह प्रभावित किया है। समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार उनके अधिकार क्षेत्र में भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, श्रीलंका, नेपाल और मालदीव शामिल हैं।

ग्लोबल सॉल्यूशंस ग्रुप्स के साथ मिलकर काम करेंगे

आभास झा की शीर्ष प्राथमिकताओं में से एक दक्षिण एशिया क्षेत्र (SAR) आपदा जोखिम प्रबंधन और जलवायु परिवर्तन टीम को जोड़ने और सहयोग करने के लिए प्रोत्साहित और मदद करना होगा। विश्व बैंक ने कहा है कि झा अन्य प्रैक्टिस मैनेजरों और ग्लोबल सॉल्यूशंस ग्रुप्स के साथ मिलकर काम करेंगे, ताकि बड़े पैमाने पर ना केवल अभिनव और उच्च गुणवत्ता वाले समाधान पेश किए जा सकें, बल्कि इन देशों के सहयोग के लिए वैश्विक ज्ञान और उसके प्रवाह को बढ़ावा दिया जा सके।

क्या होगा झा का काम

समाचार एजेंसी पीटीआइ ने विश्व बैंक के हवाले से जानकारी दी कि झा का काम इन देशों की समस्याओं का सबसे अच्छा समाधान देने के लिए उच्च योग्य पेशेवरों की एक टीम का पोषण, नेतृत्व, प्रेरणा और तैनाती करना है।

भारत समेत इन देशों के बैंक कार्यालय में कार्यकारी निदेशक रह चुके हैं

समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार वर्ष 2001 में विश्व बैंक से जुड़े झा बांग्लादेश, भूटान, भारत और श्रीलंका के बैंक कार्यालय में कार्यकारी निदेशक रह चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने लैटिन अमेरिका, कैरिबियन, यूरोप, मध्य एशिया, पूर्वी एशिया और प्रशांत क्षेत्रों में काम किया है।

कुछ समय पहले तक पूर्वी एशिया और प्रशांत क्षेत्र में कर रहे थे काम

आभास झा इससे कुछ समय पहले तक पूर्वी एशिया और प्रशांत क्षेत्र में शहरी विकास और आपदा जोखिम प्रबंधन के लिए बतौर प्रैक्टिस मैनेजर काम कर रहे थे।

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस