वाशिंगटन, प्रेट्र। चीन पर नजर और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति एवं कानून का राज कायम रखने के तहत एक शीर्ष अमेरिकी कांग्रेस समिति क्षेत्र के तीन लोकतांत्रिक देशों भारत, जापान और दक्षिण कोरिया को खुफिया साझेदारी के लिए 'फाइव आइ' के तहत लाना चाहती है। 'फाइव आइ' एक गठबंधन है जिसमें आस्ट्रेलिया, कनाडा, न्यूजीलैंड, ग्रेट ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं। गठबंधन के पांचों देश आपस में खुफिया सूचनाएं साझा करते हैं।

हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति और कानून का राज हो कायम

खुफिया पर सदन की स्थायी समिति के अध्यक्ष सांसद एडम स्चीफ ने गुरुवार को प्रतिनिधि सभा को सौंपी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि भारत, जापान और दक्षिण कोरिया के मामले को फाइव आइ के साथ लाया जाए ताकि हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति और कानून का राज कायम रहे।

खुफिया जानकारी का होगा आदान प्रदान

स्चीफ ने कहा, 'रक्षा मंत्री के तहत खुफिया मामलों की समिति ओडीएनआइ के साथ मिलकर कांग्रेस की खुफिया एवं रक्षा समितियों को कानून लागू होने के 60 दिन के अंदर भारत, जापान और कोरिया तथा फाइव आइ के सहयोगियों के बीच सूचनाओं के आदान-प्रदान के लाभ, चुनौतियां और सूचना-साझेदारी तंत्र के दायरे के विस्तार के जोखिम आदि से अवगत कराएगी।'

पिछले हफ्ते तक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया में व्यस्त रहे स्चीफ ने 2018, 2019 और 2020 के लिए खुफिया प्राधिकरण उपायों पर अपने बयान में यह बात कही है। रिपोर्ट में भारत, जापान और दक्षिण कोरिया नामक एक उपखंड में समिति ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय गठबंधन और साझेदारी अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा उद्देश्यों को आगे बढ़ाने और बनाए रखने के लिए अहम है।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021