वाशिंगटन, प्रेट्र। रूस से भारत को होने वाले हथियारों के निर्यात में 2014-18 और 2009-13 के बीच 42 फीसद की गिरावट आई। भारत दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा हथियार आयातक देश है।

स्टाकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (एसआइपीआरआइ) द्वारा जारी 'अंतरराष्ट्रीय हथियार हस्तांतरण 2018' रिपोर्ट के अनुसार, 2014-2018 के दौरान भारत के कुल हथियार आयात का 58 फीसद रूस से हुआ। 2009-13 के बीच वहां से 76 फीसद आयात किया गया था।

रिपोर्ट में जारी आंकड़े के मुताबिक, भारत के हथियार आयात में 2009-13 और 2014-18 के बीच 24 फीसद गिरावट हुई। भारत के आयात में गिरावट का कारण हथियारों की डिलीवरी में देरी भी आंशिक कारण था। भारत ने 2001 में रूस से लड़ाकू विमान और 2008 में फ्रांस से पनडुब्बी का आर्डर दिया था।

अभी तक भारत दुनिया का सबसे बड़ा हथियार आयातक देश है। दुनिया के कुल आयात का 9.5 फीसद भारत के हिस्से में आता है। 2014-18 के दौरान इजरायल, अमेरिका और फ्रांस ने भारत को हथियार निर्यात में वृद्धि की।

2009-13 के दौरान पाकिस्तान के हथियार आयात में 39 फीसद गिरावट आई। अमेरिका, पाकिस्तान को हथियार और सैन्य सहायता मुहैया कराने में लगातार आनाकानी कर रहा है। अमेरिका से उसके हथियार आयात में 81 फीसद की गिरावट आई।

 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Bhupendra Singh