ह्यूस्टन, एएनआइ। हाउडी मोदी (Howdy Modi ) कार्यक्रम में पीएम मोदी ने नाम लिए बिना पाकिस्तान पर हमला किया। पीएम मोदी ने कहा कि जो लोग आतंकवाद को पालते हैं पूरी दुनिया उनको पहचान गई है। पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ अब निर्णायक लड़ाई का समय आ गया है।

इस दौरान पीएम मोदी ने अमेरिका में 9/11 और मुंबई में 26/11 हमलों का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि सब जानते हैं कि इन अतंकी हमलों के साजिशकर्ता कहां पाए जाते हैं। साथियों अब समय आ गया है कि आतंकवाद के खिलाफ और आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ी जाए।

आतंक को पालने-पोसने वालों की पहचान उजागर

पीएम मोदी ने आर्टिकल 370 हटाए जाने के फैसले पर बोलते हुए कहा कि भारत अपने यहां जो कर रहा है, उससे कुछ ऐसे लोगों को भी दिक्कत हो रही है, जिनसे खुद अपना देश नहीं संभल रहा है। इन लोगों ने भारत के प्रति नफरत को ही अपनी राजनीतिक का केंद्र बना लिया है। उन्होंने कहा कि ये वो लोग हैं जो अशांति चाहते हैं, आतंक के समर्थक हैं, आतंक को पालते पोसते हैं, उनकी पहचान सिर्फ आप ही नहीं पूरी दुनिया अच्छे से जानती है। 

राष्ट्रपति ट्रंप आतंकवाद के खिलाफ हमारे साथ

पीएम मोदी ने कहा कि मैं यहां पर जोर देकर कहना चाहूंगा कि इस लड़ाई में प्रेसिडेंट ट्रंप पूरी मजबूती के साथ खड़े हुए हैं। भारत बहुत कुछ करने के इरादे के साथ चल रहा है। हमने नए चुनौतियों को तय करने और उन्हें पूरा करने की ठान ली है। उन्‍होंने एक कविता पढ़ी- वो जो मुश्किलों का अंबार है... वही तो मेरे हौसलों की मीनार है...।

अनुच्‍छेद 370 को फेयरवेल दे दिया

आर्टिकल 370 को खत्म करने को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि हमने जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 को फेयरवेल दे दिया। अनुच्‍छेद 370 ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विकास से और समान अधिकारों से वंचित रखा था। इस स्थिति का लाभ आतंकवाद और अलगाववाद बढ़ाने वाली ताकतें उठा रही थी। भारत के संविधान जो अधिकार बाकी भारतीयों को दिए हैं, वही अधिकार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को मिल गए हैं।

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप