वाशिंगटन, रायटर्स। अमेरिका के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ डाक्टर एंथनी फासी (Dr. Anthony Fauci) ने मंगलवार को कहा कि यह जानना मुश्किल है कि कोविड-19 के नए वैरिएंट ओमीक्रोन से जोखिम कितना गंभीर हो सकता है। डाक्टर फासी ने यह भी कहा कि दक्षिण अफ्रीका से मिले प्राथमिक जानकारी से पता चलता है कि इसके कारण असामान्य लक्षण नहीं दिखते हैं।

अमेरिका के बाइडन प्रशासन अमेरिका आने वाले हवाई यात्रियों के लिए सख्त कोविड-19 टेस्टिंग के नियम लागू करने वाली है। इसके लिए प्रस्ताव का मसौदा सभी सरकारी एजेंसियों को दिया जा रहा है। इसके अनुसार दूसरे देशों से अमेरिका आ रहे यात्रियों को रवाना होने से पहले के एक दिन में कराए गए कोविड टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट पेश करना होगा। साथ ही अमेरिका आने वाले सभी विदेशी यात्रियों को वैक्सीन का डोज लिया होना आवश्यक है। 

बता दें कि पिछले सप्ताह जब दक्षिण अफ्रीका की ओर से इस नए वैरिएंट ओमीक्रोन के बारे में WHO को जानकारी दी गई तब तक यह नीदरलैंड (Netherlands) पहुंच चुका था। वहां के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि देश में नए कोविड-19 ओमीक्रोन से संक्रमण का मामला मिल चुका है।  बोत्सवाना में 11 नवंबर 2021 को कोविड-19 के नए वैरिएंट ओमीक्रोन (B.1.1.529) का पता चला था। इसके बाद 14 नवंबर को यह दक्षिण अफ्रीका में मिला। WHO ने इसे वैरिएंट आफ कंसर्न की श्रेणी में डाला है।

दक्षिण अफ्रीका के सभी प्रांतों में इस वैरिएंट से संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। कोविड-19 वैरिएंट ओमीक्रोन की उत्पत्ति को लेकर अमेरिका, फिलीपींस, स्पेन, इजरायल, आस्ट्रिया, मोरक्को समेत अनेकों देशों की ओर से अफ्रीकी देशों के लिए यात्रा प्रतिबंध लागू कर दिया गया है। इसके साथ ही कनाडा ने पिछले 14 दिनों के भीतर दक्षिण अफ्रीका की यात्रा करने वाले सभी विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर रोक लगा दी है।

Edited By: Monika Minal