वाशिंगटन, प्रेट्र। भारतवंशी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने अमेरिकी संसद में एक विधेयक पेश किया है जो एच-1बी कर्मियों को नौकरी बदलने में सहूलियत देता है। इस बिल में अमेरिका से मास्टर्स डिग्री या उच्च शिक्षा हासिल करने वालों को जारी किए जाने वाले एच-1बी वीजा की वार्षिक सीमा 20 हजार से बढ़ाने का भी प्रावधान है।

इससे ग्रीन कार्ड के लंबित आवेदनों का जल्द निपटारा हो सकेगा। डेमोक्रेटिक सांसद कृष्णमूर्ति ने गुरुवार को संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में इमीग्रेशन इनोवेशन एक्ट ऑफ 2018 पेश किया।

रिपब्लिकन पार्टी के सांसद माइक कॉफमैन ने भी इसका समर्थन किया। दोनों सांसदों का कहना है कि कानून बन जाने पर एच-1बी वर्क वीजा प्रोग्राम में सुधार होने के साथ यह सरल हो जाएगा।

Posted By: Ravindra Pratap Sing