वाशिंगटन, रायटर। अमेरिका के न्याय विभाग के एक हजार से ज्यादा पूर्व कर्मचारियों ने अटॉर्नी जनरल विलियम बार से इस्तीफे की मांग की है। इनका कहना है कि बार ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लंबे समय तक सलाहकार रहे रोजर स्टोन के खिलाफ मामले को उन्होंने ठीक तरह से अपना काम नहीं किया।

रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक दोनों ही दलों के शासनकाल में काम करने वाले पूर्व अधिकारियों ने बार की अपने ही अभियोजकों की दलीलों को पलटने के लिए आलोचना की है। उनके इस कदम से यह आरोप लग रहे हैं कि ट्रंप प्रशासन देश की न्याय व्यवस्था को कमजोर कर रहा है।

दरअसल, रोजर स्टोन पर 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में रूसी हस्तक्षेप की जांच को प्रभावित करने, साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ करने और संसद के सामने झूठ बोलने का आरोप है। न्याय विभाग के अभियोजकों ने स्टोन को सात से नौ साल कैद की सजा की सिफारिश की थी। लेकिन देश के सर्वोच्च न्यायिक अधिकारी की हैसियत से बार ने अपने अभियोजकों की सिफारिश को पलट दिया। स्टोन ट्रंप के करीबी हैं। रूस पर ट्रंप को फायदा पहुचाने का आरोप लगा था।

Posted By: Shashank Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस