वाशिंगटन, प्रेट्र/आइएएनएस। अमेरिका के राष्ट्रपति भवन ह्वाइट हाउस में अपने 20 माह के अनुभव पर डोनाल्ड ट्रंप का मानना है कि यह दुनिया बहुत कपटी और अनैतिक है। यह झूठ से भरी हुई है।

उन्होंने कहा कि वह मैनट्टन में रियल एस्टेट से जुड़े लोगों को सबसे सख्त मानते हैं, लेकिन वे सियासी लोगों के सामने बच्चे हैं। जनवरी, 2016 में अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति बनने वाले ट्रंप ने सीबीएस न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने यह जाना कि मीडिया सबसे ज्यादा बेईमान है।

Image result for donald trump interview with cbs

उन्होंने कहा, 'यह बहुत ही कपटी और अनैतिक दुनिया है। यह झूठ और धोखाधड़ी से भरी है।' रविवार को प्रसारित इस इंटरव्यू में एक सवाल पर ट्रंप ने कहा कि उनके प्रशासन में अराजकता की खबर फर्जी है। उन्होंने हालांकि यह माना कि वह ह्वाइट हाउस में हर किसी पर भरोसा नहीं करते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं आमतौर पर सुरक्षा में रहता हूं। लेकिन मैं यह नहीं कर रहा हूं कि मैं हर किसी पर भरोसा करता हूं। यह कठिन काम है। यह बहुत अनैतिक स्थान है।'

चीन के साथ चाहते हैं संतुलित व्यापार
ट्रंप ने कहा कि वह चीन के साथ संतुलित व्यापार समझौते पर चर्चा करना चाहते हैं। उनकी इच्छा है कि अमेरिका की तरह चीन भी सभी के लिए अपना बाजार खोल दे। ट्रंप का यह बयान ऐसे समय आया जब दोनों देशों में कारोबारी जंग छिड़ी हुई है।

donald trump interview with cbs

हत्याओं में शामिल हो सकते हैं पुतिन
ट्रंप ने इंटरव्यू में दावा किया कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन हत्याओं और जहर देने की घटनाओं में शामिल हो सकते हैं। लेकिन यह सभी मामले अमेरिका से बाहर के हैं।

अमेरिकी चुनाव में चीन ने भी की थी दखलअंदाजी
ट्रंप के ताजा आरोपों से चीन और भड़क सकता है। उन्होंने दावा किया है कि अमेरिका में 2016 में हुए राष्ट्रपति चुनाव में रूस के अलावा चीन ने भी दखलअंदाजी की थी। ट्रंप ने पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह भी आरोप लगाया था कि चीन इस साल अमेरिका में होने वाले मध्यावधि चुनाव में भी दखल देने का प्रयास कर रहा है।

वह उन्हें राष्ट्रपति पद पर देखना नहीं चाहता है। उस समय चीन ने ट्रंप के इन आरोपों को खारिज किया था। ट्रंप ने पहली बार सार्वजनिक तौर पर एक इंटरव्यू में कहा, 'उन्होंने (रूसियों) ने दखलअंदाजी की थी, लेकिन मुझे लगता है कि चीन ने भी दखल दिया था। साफ तौर पर कहूं तो चीन एक बड़ी समस्या है।'

अमेरिकी राष्ट्रपति की कैंसर से तुलना
डोनाल्ड ट्रंप पर हमला बोलते हुए हास्य अभिनेता ट्रेवन नोह ने उनकी तुलना कैंसर से की है। 'द डेली शो' के प्रजेंटर ट्रंप के बड़े आलोचक माने जाते हैं।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस