न्यूयॉर्क, प्रेट्र। अमेरिका के कैलिफोर्निया में भारतवंशी सिख टैक्सी चालक पर कबाब सेंकने वाले लोहे के सरिये से घातक हमला किया गया। यह हमला उस समय हुआ जब वह काम खत्म करने के बाद अपने घर के सामने कैब पार्क कर रहे थे। उनकी बेटी ने वेशभूषा के कारण हमला किए जाने का आरोप लगाया है। एक पखवाड़े के भीतर यह दूसरी वारदात है, जब किसी सिख पर हमला किया गया है।

लोहे के सरिये से किया हमला

एसएफगेट डॉट कॉम के अनुसार, बलजीत सिंह सिद्धू (57) उबर कैब चालक हैं। वह रविवार को काम खत्म करने के बाद कैलिफोर्निया के रिचमंड स्थित अपने घर के बाहर कैब पार्क कर रहे थे। तभी उनकी कैब के पास आकर एक व्यक्ति ने लाइटर मांगा। सिद्धू के मना करने पर वह चला गया। केटीवीयू टीवी चैनल को सिद्धू ने बताया, 'दोबारा लौटने पर उसने मुझसे कहा कि उसके पास पांच डॉलर हैं और वह टैक्सी से कहीं जाना चाहता है। मुझे यह बात संदिग्ध लगी और मैंने कहा कि शिफ्ट खत्म हो चुकी है। यह सुनकर वह चला गया और थोड़ी ही देर में लौटकर लोहे के सरिये से सिर पर हमला कर दिया।' उसने सिद्धू को कैब से निकालकर उनका गला दबाने की कोशिश भी की।

सिद्धू की बेटी गगनजोत ने कहा, 'उनकी पगड़ी उतरी हुई थी और पूरा चेहरा खून से लथपथ था। यह काफी भयावह था।' गगनजोत ने कहा कि उसके पिता पर सिर्फ उनकी वेशभूषा के कारण हमला किया गया। उल्लेखनीय है कि पांच दिसंबर को वाशिंगटन में भी भारतवंशी सिख टैक्सी चालक पर हमला किया गया था। संदेह है कि यह हमला हेट क्राइम (घृणा अपराध) के तहत किया गया था।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस