वॉशिंगटन, पीटीआइ। अमेरिका में COVID-19 से कम से कम 11 भारतीयों की मौत हो गई है जबकि यहां यूपी और उत्तराखंड के रहने वाले 16 और भारतीयों की टेस्ट रिपोर्ट भी पॉजीटिव आई है। इस घातक वायरस की चपेट में आने से अब तक यहां 14,000 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है जबकि अमेरिका में चार लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं।

अमेरिका में घातक संक्रमण से मरने वाले सभी भारतीय नागरिक पुरुष हैं, जिनमें से दस न्यूयॉर्क और न्यू जर्सी क्षेत्र के हैं। पीड़ितों में से चार न्यूयॉर्क शहर में टैक्सी चालक बताए जाते हैं।

न्यूयॉर्क सिटी यहां COVID ​​-19 का उपकेंद्र माना जा रहा है यहां अब तक 6,000 से अधिक मौतें और संक्रमण के 1,38,000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। न्यू जर्सी में 1,500 मृत्यु और लगभग 48,000 मामले संक्रमण के हैं।

एक भारतीय नागरिक की कथित तौर पर फ्लोरिडा में कोरोनावायरस के कारण मृत्यु हो गई। प्राधिकरण कैलिफोर्निया और टेक्सास राज्यों में कुछ अन्य भारतीय मूल के लोगों की राष्ट्रीयता का भी पता लगा रहे हैं।

अमेरिका में 16 भारतीय और कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए हैं, जिनमें 4 महिलाएं भी शामिल हैं जिनका कोरोना वायरस टेस्ट पॉजीटिव आया है। इन सभी लोगों को सेल्फ आइसोलेशन पर रखा गया है। इन लोगों में आठ न्यूयॉर्क से, तीन न्यू जर्सी से और बाकी टेक्सास और कैलिफोर्निया जैसे राज्यों से हैं। ये सभी भारतीय उत्तराखंड, महाराष्ट्र, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं।

अमेरिका में मौजूद भारतीय दूतावास और वाणिज्य दूतावास स्थानीय अधिकारियों और भारतीय-अमेरिकी संगठनों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं ताकि भारतीय नागरिकों और COVID-19 से प्रभावित छात्रों को आवश्यक सहायता प्रदान की जा सके।

अधिकारियों ने कहा कि घातक वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सख्त यात्रा प्रतिबंधों और नियमों के कारण, स्थानीय शहर के अधिकारी मृतक का अंतिम संस्कार किया है और कई मामलों में तो उनके परिवार के सदस्यों को भी उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाती है।

 

Posted By: Neel Rajput

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस